DEFENCE

रक्षा मंत्रालय ने 1971 के भारत-पाक युद्ध में सशस्त्र बलों की जीत की याद में डिजाइन आमंत्रित किए, विजेता को 50 हजार का ईनाम

मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस

नई दिल्ली। दिसंबर, 1971 में भारतीय सशस्त्र बलों ने ऐतिहासिक शौर्य और पराक्रम के चलते पाकिस्तान पर जीत हासिल की और बांग्लादेश का निर्माण हुआ। 16 दिसंबर 2021 को इस गौरवशाली दिवस के 50 वर्ष पूरे हो रहे हैं और इसे स्वर्णिम विजय वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। इसके चलते दिसंबर, 2020 से 16 दिसंबर 2021 तक कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे और इन्हें एक लोगो के जरिए अलग पहचान दी जाएगी। इसी के चलते रक्षा मंत्रालय ने प्रस्ताव रखा है कि एक अलग लोगो का इस्तेमाल करके इन कार्यक्रमों को स्वर्णिम विजय वर्ष से जोड़ा जाएगा। देश के सामान्य नागरिकों से लोगो के डिजाइन मांगे गए हैं। इसमें भाग लेने वाले प्रतिभागियों को निम्नलिखित दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा-





  • लोगो इस तरह से बनाया जाए जिसमें भारत की तीनों सेनाओं- भारतीय थल सेना, नौसेना और वायुसेना का चित्रण हो।
  • इसमें हमारी सेनाओं के पराक्रम और शौर्य का चित्रण हो न कि शत्रु का उपहास।
  • यदि लोगो में किसी भी शस्त्र का चित्रण किया जाता है तो वो वही शस्त्र होने चाहिए जिनका इस्तेमाल 1971 के युद्ध में किया गया था।
  • इसमें इस्तेमाल किए गए कथन दोनों भाषाओं (हिंदी और अंग्रेजी) में होने चाहिए।
  • लोगो डिजाइन की इस प्रतियोगिता के लिए एंट्री भेजने की आखिरी तारीख 11 नवंबर 2020 की है। विजेता को 50 हजार रूपये का नकद ईनाम दिया जाएगा। इस प्रतियोगिता से जुड़े निर्देश, तकनीकी मापदंड और चयन प्रक्रिया की जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- https://www.mygov.in/task/logo-design-contest-swarnim-vijay-varsh

Comments

Most Popular

To Top