DEFENCE

चीन व पकिस्तान सीमा की निगरानी के लिए सेना जल्द खरीदेगी मिनी यूएवी

नई दिल्ली। एक तरफ भारत-पाकिस्तान सीमा पर पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ बढ़ती जा रही है वहीं चीन सीमा की निगरानी सेना के लिए कड़ी चुनौती बनी हुई है। इसी बीच सेना ने इन दोनों ही सीमाओं पर तैनात करने के लिए मिनी यूएवी (Unmanned Aerial Vehcile) खरीदने की प्रक्रिया को तेज करने का फैसला किया है। ऐसा पहली बार हो रहा है, जब सेना इतने बड़े स्तर पर मिनी यूएवी खरीद रही है।





600 यूएवी की खरीद प्रक्रिया पूरी

सूत्रों के मुताबिक सरकार की योजना इन्फैंट्री यानी पैदल सेना की सभी बटालियनों के लिए एक-एक मिनी यूएवी से लैस करने की है। कहा जा रहा है कि हाल में 600 यूएवी की खरीदने की प्रक्रिया पूरी की गई है। कई कंपनियों ने इसमें रुचि दिखाई है लेकिन तकनीकी मूल्यांकन में सफल होने वाली कंपनी ही मिनी यूएवी सप्लाई करने के मुकाबले में शामिल होगी।

950 करोड़ रुपये की लागत

मिनी यूएवी प्रॉजेक्ट के लिए 950 करोड़ रुपए की लागत निर्धारित की गई है। सेना चाहती है कि मिनी यूएवी बेहद हलके वजन वाले हों इसके लिए इनका वजन 35 किलोग्राम तक होना  चाहिए, ताकि वजन कम होने के कारण कम खर्च में इससे ज्यादा देर तक काम लिया जा  सके। यह 3000 मीटर की ऊंचाई पर 2 घंटे तक उड़ान भरने की क्षमता रखता हो।

गौरतलब है कि सरकार सेना को अधिक आधुनिक और मजबूत बनाने की ओर अग्रसर है। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने हाल ही में इन्फैंट्री के आधुनिकीकरण को प्राथमिकता देने और उनकी सर्विलांस क्षमता बढ़ाने पर विचार करने की बात की थी।

Comments

Most Popular

To Top