DEFENCE

भारत ने 1.3 अरब डॉलर के चीनी निवेश को रोका

चीनी कंपनी

नई दिल्ली। चीन के साथ बढ़ती तनातनी के मद्देनजर भारत सरकार ने शंघाई फोसमफार्मास्युटिकल ग्रुप के एक भारतीय कंपनी को खरीदने के प्रस्ताव को रोकने का फैसला किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई आर्थिक मामलों की कैबिनेट कमेटी की बैठक में फैसला किया गया कि चीनी कंपनी द्वारा ग्लैंड फार्मा के 86 प्रतिशत शेयर खरीदने के प्रस्ताव को रोक दिया जाए।





किसी चीनी कंपनी द्वारा सबसे बड़ा निवेश

‘इकोनॉमिक टाइम्स’ के अनुसार किसी चीनी कंपनी द्वारा भारत में यह सबसे बड़ा निवेश है। अभी इस फैसले की औपचारिक सूचना कंपनी को दी नहीं गई है। ग्लैंड फार्मा ऐसी जेनरिक दवाओं का उत्पादन करता है, जिन्हें अमेरिका में बिक्री की अनुमति प्राप्त है। माना जा रहा है कि भारत सरकार का यह निर्णय एक प्रकार से कारोबारी नाकाबंदी है। इसका मतलब है कि चीन की तरफ से भी जवाबी कार्रवाई हो सकती है।

Comments

Most Popular

To Top