DEFENCE

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लालकिला बनेगा ‘अभेद्य किला’

नई दिल्ली। स्वतंत्रता दिवस समारोह का लालकिले के साथ गहरा नाता है। इस खास मौके पर देश के प्रधानमंत्री राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद यहीं से राष्ट्र को संबोधन भी करते हैं ये बात तो सभी जानते हैं लेकिन आज जो बातें हम बताने जा रहे हैं वो काफी रोचक है।





स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान लालकिला महज किला ना होकर अभेद्य किला का रूप ले लेता है। इस बार सुरक्षा की दृष्टि से इसके अंदर और बाहर लगे हर एक पेड़ पर कमांडो तैनात किए जाएंगे। जिसके लिए लालकिले के आसपास खड़े 3,140 पेड़ों को सांकेतिक कोडिंग के माध्यम से अलग पहचान दी गई है। किले के ऊपर हवाई सुरक्षा में हेलिकॉप्टर लगाए जाएंगें जो अत्याधुनिक हथियारों से लैस रहेंगे। आसमान से भी कमांडो सुरक्षा में चौकस रहेंगे।

लालकिले के अंदर 2,400 पेड़ों और बाहर 740 पेड़ों पर एक-एक टीम तैनात की गई है। कमांडो कंट्रोल रूम के साथ-साथ एक-दूसरे से भी जुड़े रहेंगे। कंट्रोल रूम में लगभग 25 पुलिसकर्मियों को ड्यूटी पर लगाया गया है। कंट्रोल रूम का कमान सीधे NSG और अन्य सुरक्षा एजेंसियों से जोड़ा गया है।

लालकिले तक पहुंचने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य वीआईपी के मार्ग पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। इन रास्तों पर पुलिस ने अत्याधुनिक हथियारों से लैस 14 और कमांडो गाड़ियां ‘पराक्रम’ को तैनात किया जाएगा।

खुफिया सूत्रों के अनुसार आतंकी सुरक्षाबलों या साधु का वेश धारण कर आत्मघाती हमला करने की साजिश में हैं। आतंकी संगठन हेलिकॉप्टर चार्टर सेवाओं और चार्टर उड़ानों का इस्तेमाल कर हवाई हमले की फिराक में हैं।

ये है सुरक्षा के बंदोबस्त:

  • 20,000 सुरक्षाकर्मी लालकिला और VIP रूट पर तैनात रहेंगे
  • 500 विशेश कमांडो लालकिला और इर्दगिर्द तैनात रहेंगे
  • 600 CCTV कैमरे लालकिला और आसपास लगाए गए हैं।

Comments

Most Popular

To Top