DEFENCE

उद्योग जगत की मदद की दिशा में डीआरडीओ ने किया एक और महत्वपूर्ण बदलाव

राजनाथ सिंह
फाइल फोटो

नई दिल्ली। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की स्वीकृति के बाद रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठण (DRDO) और एटीवीपी ने उद्योगों को मदद करने के लिए एक और उपाय के तौर पर ‘विकास संविदाओं’ में ‘प्रदर्शन सुरक्षा’ के नियम को ख़त्म कर दिया है। यह छूट केवल विकास संविदाओं के लिए है जैसा कि डीआरडीओ की खरीद नियमावली (पीएम- 2016) के पैरा 12.5 में उल्लेखित और संशोधित किया गया है। हालांकि वारंटी की अवधि के दौरान डीआरडीओ और एटीवीपी के हितों को संरक्षित करने के लिए सफल विकास साझेदारों से वारंटी बॉन्ड प्राप्त करने की प्रक्रिया जारी रहेगी।





यह प्रावधान संशोधित की गई तिथि- 23 सितंबर से विकास से जुड़ी सभी संविदाओं के लिए निविदाएँ आमंत्रित करने (आरएफ़पी) पर लागू होंगे। विकास संविदाओं से जुड़ी जिन निविदाओं या संविदाओं को पहले ही जारी किया जा चुका है उनके लिए आरएफ़पी में दर्ज प्रावधान ही लागू होंगे।

डीआरडीओ के अध्यक्ष और सचिव डीडी आर एंड डी डॉ. जी सतीश रेड्डी ने इस संबंध में कहा कि उद्योग जगत को मदद करने की दिशा में यह एक और महत्वपूर्ण मील का पत्थर होगा।

Comments

Most Popular

To Top