DEFENCE

‘ड्रैगन’ की चाल का पर्दाफाश, लद्दाख सीमा के नजदीक सुरंग बना रही है चीनी सेना

चीनी सेना
फोटो सौजन्य- गूगल

नई दिल्ली। चीन ने लद्दाख में एक बार फिर बॉर्डर के नजदीक भारत की सुरक्षा के खिलाफ हरकतें तेज की हैं। लद्दाख के सीमावर्ती क्षेत्र में चीन ने अपनी सेना के बुनियादी ढांचे को बड़े पैमाने पर विस्तार देने की तैयारी में है। रक्षा मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने लद्दाख में पैंगोंग झील के पास सैन्य बुनियादी ढांचे के विकास पर कार्य करना प्रारंभ कर दिया है।





एक सूत्र ने बताया कि चीन की पीएलए ने इस इलाके में टेंट लगाए हैं और सामरिक रूप से अहम इसी इलाके में भूमिगत सुरंगें तैयार की है। चीनी सेना पैंगोंग त्सो क्षेत्र के पास विवादित फिंगर 8 माउंटेन स्पर में और ज्यादा सुरंगों का निर्माण कर रही है।

सूत्रों के अनुसार यह भी देखा गया है कि चीनी सेना ने इस इलाके में अपनी सेना की तैनाती और गश्त भी बढ़ाई दी है। इतना ही नहीं अब चीनी सेना आसपास के क्षेत्रों में भारतीय सेना की आवाजाही पर एतराज जता रहे हैं। मामूल हो कि इस विवादित क्षेत्र में किसी तरह का सैन्य ढांचा नहीं बनाया गया है जहां पीएलए गश्त के लिए आ जाया करती थी। पर टेंट की स्थापना करने के साथ ही चीनी सेना ने जिस तरह खुद को इस सीमावर्ती इलाके में तैनात कर लिया है यह भारत के लिए चिंता का सबब है।

पेंगोंग झील के उत्तरी तट इलाके का दो तिहाई हिस्सा चीन के कब्जे में है जो तिब्बत से लेकर लद्दाख तक फैला हुआ है। भारत और चीन के बीच मानी गई वास्तविक सीमा रेखा (LaC) को लेकर दोनों देशों के विरोधाभासी सोच के कारण यह विवाद होते चले आ रहे हैं।

Comments

Most Popular

To Top