DEFENCE

4 माह में सौ बार भारतीय सीमा में घुसे चीनी सैनिक

भारतीय सेना के जवान

नई दिल्ली। भारत-चीन सीमा पर तनाव दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है। खबरों के मुताबिक चीन ने लद्दाख क्षेत्र में पिछले चार पांच माह में करीब सौ से भी ज्यादा बार घुसपैठ की कोशिश है, जिसे सीमा पर तैनात भारतीय जवानों ने हर बार नाकाम किया है, लेकिन पिछले दिनों हुई पथराव की घटना को गंभीर माना जा रहा है।





मंगलवार को हुई पथराव की घटना पर भारतीय पक्ष गंभीर

सूत्रों की मानें, तो इस क्षेत्र में चीनी सैनिकों का अतिक्रमण नियमित कार्य बन गया है, लेकिन वे जब भी ऐसा करते हैं तो भारतीय सैनिकों के विरोध के कारण उन्हें हर बार उलटे पांव लौटना पड़ता है। मंगलवार को हुई घटना को भरतीय सेना गंभीरता से ले रही है।

एक घंटे से ज्यादा नहीं रुकने दिए जाते चीनी सैनिक

गौरतलब है की सीमा पर कुछ इलाकों के चिन्हित न होने से दोनों देशों के सैनिक एक दूसरे की सीमाओं में चले जाते हैं लेकिन चीनी सैनिक जब भी एक घंटे से ज्यादा समय तक भारतीय सीमा में उपस्थित रहे हैं तभी भारतीय पक्ष की ओर से विरोध किया गया और उन्हें वहां से खदेड़ दिया गया है।

पेंगोंग झील पर भी नजरे गड़ाए है चीन

सूत्रों के अनुसार चीन का फोकस पेंगोंग झील के इलाके पर है। चीन की इस क्षेत्र में बार-बार घुसपैठ भी इस ओर इशारा करती है। पहले पेंगोंग झील के आधे इलाके पर चीन का कब्पजा हुआ करता था लेकिन धीरे-धीरे दो तिहाई हिस्से पर चीन ने कब्जा कर लिया। जानकारों का कहना है कि बार-बार घुसपैठ कर चीन झील के बाकी हिस्से पर भी कब्जे की फिराक में है। आपको बता दें कि हाल ही में लद्दाख में पेंगोंग झील के भारतीय क्षेत्र में घुसने की चीन की कोशिश को भारतीय सैनिकों न नाकाम कर दिया। इससे नाराज चीनी सैनिकों ने पथराव किया दोनों तरफ के सैनिकों को मामूली चोटें आईं।

Comments

Most Popular

To Top