DEFENCE

चीन से ‘वाटर बम’ का खतरा, पिछले 3 महीने से चीन ने नहीं किया भारत से डाटा साझा

चीन से 'वारट बम' का खतरा

नई दिल्ली। डोकलाम पर पिछले दो महीने से ज्यादा समय से जारी भारत-चीन के बीच विवाद चल रहा है। इस बीच, ऐसे कई मौके आए जब लगा चीन भारत के खिलाफ छद्म युद्ध छेड़ना चाहता है। हाल ही में विदेश मंत्रालय ने खुलासा किया कि चीन पिछले 3 महीने से वाटर डाटा साझा नहीं कर रहा है। इससे पहले दोनों देश पानी के बारे में आंकड़े साझा करते रहे हैं। चीन द्वारा जानकारी नहीं देने के कारण बिहार-बंगाल समेत पूर्वोत्तर क्षेत्र में इन दिनों कई नदियां उफान पर हैं।





आकंड़ा साझा नहीं करने और कितना पानी तिब्बत से निकलने वाली नदियों में छोड़ा जा रहा है, जिसकी जानकारी चीन मुहैया नहीं करा रहा है। पर्यावरण विशेषज्ञ के मुताबिक ऐसा कर चीन भारत पर छद्म रूप से वाटर बम फोड़ना चाहता है। चीन ने भारत आने वाली नदियों पर कई बांध बना रखे हैं और कई नए बांध का निर्माण कर रहा है। भौगोलिक दृष्टि से भी यह भारत के लिए खतरा पैदा कर सकती है।

तिब्बत, पानी और कीमती धातुओं सहित प्राकृतिक संसाधनों का भंडार है। यह चीन के आर्थिक विकास का सबसे बड़ा औजार है। तिब्बत की पहाड़ियों से ही एशिया की अधिकांश बड़ी नदियां निकलती हैं, जो भारत समेत दूसरे देशों में बहती हैं। भारत में भी 3 बड़ी नदियां तिब्बत से निकलती हैं। पहली सबसे बड़ी नदी ब्रह्मपुत्र है, जिस पर चीन ने कई बांध बना रखे हैं। 2,700 किमी लंबी यह नदी भारत में अरुणाचल प्रदेश और असम होते हुए बांग्लादेश में प्रवेश करती है और फिर बंगाल की खाड़ी में समा जाती है।

वाडिया इंस्टीच्यूट ऑफ हिमालयन जियोलॉजी के वैज्ञानिक का मानना है कि चीन इस नदी का इस्तेमाल भारत के खिलाफ वाटर बम के रूप में कर सकता है। अगर चीन ने ब्रह्मपुत्र पर बने बांध को खोल दिया तो भारत के पूर्वोत्तर इलाके में जल-प्रलय आ सकता है ।

दूसरी बड़ी नदी सतलज जो तिब्बत से निकलकर हिमाचल और पंजाब से गुजरते हुए पाकिस्तान में सिंधु नदी की सहायक नहीं बन जाती है। तीसरी नदी सिंधु है जो कश्मीर होते हुए पाकिस्तान में जाकर बहती है और अरब सागर में मिलती है। अगर चीन ने इन नदियों पर बने बांधों को खोल दिया तो उत्तरी भारत के कई राज्यों में जल प्रलय के हालात बन जाएंगे। जानकारी के अनुसार यदि चीन इन नदियों पर बांध खोलकर जल युद्ध आरंभ कर दे तो पंजाब को भारी क्षति तो होगी साथ-साथ भाखड़ा डैम ठप हो जाएगा और परमाणु बम विस्फोट जैसी विनाशलीला का खतरा पैदा हो जाएगा।

Comments

Most Popular

To Top