Army

स्पेशल रिपोर्ट: जनरल पांडे ने सम्भाला अंडमान के कमांडर इन चीफ की कमान

लेफ्टिनेंट जनरल पांडे
फाइल फोटो

नई दिल्ली। लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे ने अंडमान एवं निकोबार कमांड के कमांडर इन चीफ (CINCAN) का दायित्व सम्भाल लिया है। वह तीनों सेनाओं के इस पहले साझा कमांड के 15वें कमांडर होंगे। जनरल पांडे ने यह दायित्व लेफ्टिनेंट जनरल पी एस राजेश्वर से सम्भाला है।





नेशनल डिफेंस एकेडमी के स्नातक लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे थलसेना की कोर आफ इंजीनियर्स में 1982 में भर्ती हुए थे। वह ब्रिटेन के स्टाफ कालेज कैम्बरलेन के स्नातक हैं और उन्होंने महू स्थित आर्मी वार कालेज में हायर कमांड कोर्स पूरा किया है। वह नैशनल डिफेंस कालेज दिल्ली में भी उच्च स्तर का पाठ्यक्रम पूरा कर चुके हें।

अपने 37 सालों के सेवाकाल के दोरान जनरल पांडे ने आपरेशन विजय और आपरेशन पराक्रम में भाग लिया है। वह जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा के निकट इंजीनियर रेजीमेंट की कमान सम्भाल चुके हैं। थलसेना की स्ट्राइक कोर के हिस्से के तौर पर उन्होंने एक इंजीनियरी ब्रिगेड की कमान भी सम्भाली है। उन्होंने पश्चिमी लद्दाख में एक पर्वतीय डिवीजन की कमान भी सम्भाली है। उन्होंने उत्तर पूर्वी राज्य में थलसेना की ओर से प्रति विद्रीही अभियान का भी संचालन किया है।

जनरल राजेश्वार 31 मई को अपने पद से सेवामुक्त हुए हैं। उनके कमांड में कोविड महामारी से निबटने में अंडमान निकोबार प्रशासन के साथ प्रभावी तालमेल स्थापित किया और स्थानीय आबादी को राहत पहुंचाई।

Comments

Most Popular

To Top