Army

स्पेशल रिपोर्ट: कोरोना संकट के मद्देनजर सैनिकों के विदेश दौरों पर लगी रोक

भारतीय सेना
फोटो सौजन्य- गूगल

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के फैलते प्रकोप की वजह से भारतीय रक्षा मंत्रालय ने सभी सैनिकों के विदेश दौरों पर रोक लगा दी है। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों ने यह जानकारी दी । इसके साथ ही जो सैनिक विदेश दौरों से लौट रहे हैं उन्हें लौटने पर 14 दिनों की चिकित्सकीय निगरानी यानी क्वारनटाइन में रहना होगा।





इस बीच भारतीय थलसेना में कोरोना वायरस से पीड़ित पहले सैनिक की पुष्टि हुई है। लेह का रहने वाला थलसेना का 34 साल का एक जवान कोरोना वायरस से पीड़ित पाया गया है। इस सैनिक के पिता हाल में ईरान की तीर्थयात्रा पर गए थे। इस वजह से सैनिकों की सभी यूनिटों में कड़े एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। चुंकि पीड़ित सैनिक लेह स्थित लद्दाख स्काउट रेजीमेंटल सेंटर का जवान था इसलिये थलसेना ने इस यूनिट के सभी सैनिकों को क्वारानटाइन कर दिया है। एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी के मुताबिक चूंकि सेना में सैनिक सामूहिक जीवन व्यतीत करते हैं इसलिये सेना में इसके तेजी से फैलने का खतरा रहता है। सेना देख रही है कि लेह के उस सैनिक की वजह से यूनिट के अन्य सैनिकों को तो कोविड- 19 वायरस का संक्रमण नहीं हुआ।

गौरतलब है कि विदेश से लौटने वाले भारतीय नागरिकों की वजह से भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण फैल रहा है इसलिये सरकारी स्तर पर कोशिश की जा रही है कि विदेश से लौटने वालों पर विशेष निगरामी रखी जाए। बुधवार दोपहर तक देश में कोरोना वायरस से 147 के संक्रमित होने की रिपोर्टे थी।

इस बीच थलसेना की यूनिटों को भी कोरोना वायरस से प्रभावित मरीजों की देखभाल के लिये तैनात किया जा रहा है।

Comments

Most Popular

To Top