Army

आतंकवादी मसूद अजहर का भतीजा हो या कोई और, इससे कोई फर्क नहीं पड़ताः बिपिन रावत

बिपिन रावत

नई दिल्ली। सेना प्रमुख बिपिन रावत ने मंगलवार को कहा कि किसी भी आतंकवादी को बख्शा नहीं जाएगा। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि उनकी पहचान क्या है। सुरक्षा बलों का उद्देश्य कश्मीर घाटी से आतंकवाद खत्म करना है। ऐसे ऑपरेशन जारी रहेंगे और मारा गया आतंकवादी मसूद अजहर का भतीजा है या कोई और इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।





गौरतलब है कि सोमवार को दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों ने एक मुठभेड़ में तीन आतंकवादियों को मार गिराया था। मारे गए आतंकवादियों में आंतकवादी मसूद अजहर का भतीजा ताल्हा राशिद भी था। मसूद अजहर वही है जिसने पठानकोट एयरबेस हमले की साजिश रची थी। वर्ष 1999 में वह भारत की जेल में बंद था। मसूद अजहर को छुड़ाने के लिए कुछ आतंकवादियों ने उस वर्ष इंडियन एयरलाइंस के विमान का अपहरण कर लिया थे और उसे कंधार ले गए थे। यात्रियों को आतंकियों के चंगुल से छुड़ाने के लिए सरकार को अजहर मसूद और दो अन्य आतंकियों को छोड़ना पड़ा था।

अब सोमवार को पुलवामा में सुरक्षा बलों ने एक मुठभेड़ में अजहर मसूद के भतीजे ताल्हा राशिद समेत तीन आंतकवादियों को ढेर कर दिया। मुठभेड़ में सेना का एक जवान शहीद और एक नागरिक घायल हो गया था। आतंकियों के पास से एम-4 करबाइन भी बरामद हुई है। करबाइन की बरामदगी पर सेना प्रमुख ने कहा कि इससे साफ है कि आतंकियों को सरहद पार से मदद मिल रही है।

 

Comments

Most Popular

To Top