Army

कोरोना का असर: सेना ने जैसलमेर व जोधपुर में बनाए विशेष कैंप, रखे जाएंगे विदेशों से आने वाले भारतीय

भारत लौटे श्रद्धालू
प्रतीकात्मक

जोधपुर। कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में से एक ईरान सहित अन्य देशों से भारत शीघ्र ही अपने नागरिकों को निकालने की तैयारी में है। वहीं इंडियन आर्मी ने कोरोना से निपटने के लिए तैयारियां शुरू कर दी है। विदेशों से आने वाले भारतीय नागरिकों को जांच के बाद कुछ दिन तक आइसोलेशन में रखा जाएगा।





भारतीय सेना इसके लिए जोधपुर और जैसलमेर में विशेष कैंप की व्यवस्था की है। दोपहर तक करीब 150 लोगों को लेकर विशेष विमान ईरान से सीधे जैसलमेर पहुंचेगा। जैसलमेर में बाहर से आए लोगों को रखा जाएगा। अगर संख्या में इजाफा होता है तो इन्हें जोधपुर में भी रखने की तैयारी की जा चुकी है।

सेना के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने कहा कि अगले 02-03 दिन में बड़ी संख्या में भारतीय स्वदेश लौटेंगे। एहतियात के तौर पर जैसलमेर, जोधपुर, झांसी, कोलकाता, गोरखपुर और चेन्नई में विशेष सुविधाएं विकसित की जा चुकी है।

सूत्रों के मुताबिक इस सिलसिले में जोधपुर में गुरुवार को सेना व वायुसेना के आला अधिकारियों की एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित कर पूरी योजना को अंतिम रूप दिया गया। पहले आने वाले भारतीय लोगों को जैसलमेर मेरखा जाएगा। इसके बाद दूसरे समूह को जोधपुर में रखने की योजना है। दोनों जगहों पर सैन्य क्षेत्र मे विशेष आइसोलेशन वार्ड विकसित किए जा चुके हैं।

उनका कहना है कि इन दिनों जैसलमेर व जोधपुर का तापमान बढ़ रहा है। ऐसे में इस वायरस के संदिग्ध लोगों के लिए यहां का मौसम काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इसी वजह से इन दोनों जगहों का चयन किया गया है। माना जाता है कि बढ़े तापमान में इस तरह के वायरस निष्क्रिय हो जाता है।

Comments

Most Popular

To Top