Army

बिहार: बाढ़ में फंसे 2.5 लाख लोगों को सेना ने बचाया   

बिहार में बाढ़ के दौरान बचावकार्यों में जुटी एनडीआरएफ टीम

पटना। बिहार में बाढ़ से बिगड़े हालात से निपटने के लिए सेना पूरी तरह से सक्रिय है। राज्य में बाढ़ से अब तक सौ से अधिक लोगों के मारे जाने की खबर के बीच सेना, एनडीआरएफ और एफएसडीआरएफ के दो हजार से ज्यादा जवान रात-दिन लोगों को बचाने में लगे हैं। भारतीय वायुसेना भी बखूबी अपना काम कर रही है।





हेलिकॉप्टरों द्वारा गिराई जा रही है भोजन सामग्री 

मंगलवार को राज्य के मुख्यमंत्री ने दरभंगा प्रमंडल के जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया। उधर वरिष्ठ अधिकारियों की एक अलग टीम ने पूर्णिया अररिया व कटिहार जिले का दौरा किया। खबरों के मुताबिक, नेपाल में बारिश के कारण उत्तर बिहार की कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। यहां तक कि कुछ हिस्से इतने अधिक प्रभावित हैं कि सेना की बचाव टीमें भी नहीं पहुंच सकी हैं। वायु सेना के दो हेलिकॉप्टर प्रभावित इलाकों में भोजन सामग्री गिरा रहे हैं। एक अन्य तीसरे हेलिकॉप्टर को पश्चिमी चंपारण में में रहत और बचाव कार्य में लगाया गया है।

दो लाख 48 हजार लोगों को सुरक्षित निकाल चुकी है सेना

आपदा व आपदा प्रबंधन विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक 13 जिलों के 98वें ब्लॉक की एक हजार सत्तर पंचायतों को बाढ़ ने अपनी चपेट में ले लिया है, वहीं 70 लाख से भी अधिक लोग बाढ़ की मार से प्रभावित हुए हैं। ज्यादातर लोग ऊंचे स्थानों की और पलायन कर रहे हैं। वहीं सेना द्वारा दो लाख 48 हजार लोगों को बाढ़ से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया गया है।

343 राहत शिविरों में 93 हजार लोग ने ली शरण

विभाग के एक अधिकारी के अनुसार बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से करीब 1.61 लाख लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है तथा इन क्षेत्रों में 343 राहत शिविर खोले गए हैं, जिसमें करीब 93 हजार लोग शरण लिए हुए हैं। दरभंगा, मधुबनी, अररिया व किशनगंज सहित राज्य के कई हिस्सों में कई तटबंध टूट गए हैं।

Comments

Most Popular

To Top