Army

सुरक्षाबलों के लिए ‘कवच’ का काम करेगा ये नया हेलमेट

नई दिल्ली। भारत सरकार ने बुधवार को घोषणा की कि वह सेना के लिए 1.58 लाख हल्के और सुरक्षित बैलिस्टिक हेलमेट खरीद रही है। रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे ने राज्यसभा में एक लिखित उत्तर में बताया कि 1,58,279 हेलमेट खरीदने के समझौते पर दिसंबर 2016 में हस्ताक्षर हुए थे।





ये हेलमेट कानपुर की कंपनी एमकेयू लिमिटेड तैयार कर रही है। ये वज़न में हल्के और ज्यादा सुरक्षित होंगे। उन्होंने यह भी कहा कि जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ लड़ रही भारतीय सैनिकों की सुरक्षा के उपकरणों की कोई कमी नहीं है।

उनसे जब एक सवाल पूछा गया कि भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मामले में अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय के फैसले से क्या पाकिस्तानी सैनिक न्याय-व्यवस्था की खामियां उजागर हुईं है, उन्होंने कोई टिप्पणी नहीं की।

जानिए, कितनी खूबियां हैं जवानों को मिलने वाले नए बुलेटप्रूफ हेलमेट में

जब उनसे पूछा गया कि क्या भारत की सैनिक न्याय-व्यवस्था में बड़े बदलाव की जरूरत है, उन्होंने कहा कि वर्तमान कानून मानवाधिकारों, मानवीय नियमों तथा आपराधिक और सैनिक-न्यायशास्त्र के सिद्धांतों से संगति रखते हैं।

एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) डीबी शेकतकर की अध्यक्षता में गठित एक समिति ने आर्मी एजुकेशन कोर को भंग करने की सिफारिश की है। समिति की सिफारिशों पर सरकार विचार कर रही है।

Comments

Most Popular

To Top