Army

प्रधानमंत्री आवास योजना में अब जवानों को भी मिलेंगे अपने ‘सपनों के घर’

वायुसेना और नौसेना के जवान

नई दिल्ली। होली से पहले वायुसेना और नौसेना के जवानों को मिली है एक अच्छी खबर। उन्हें जल्द अपने शहरों में अफोर्डेबल हाउसिंग योजना के अन्तर्गत कम दामों में फ्लैट मिल सकेगा। सरकार द्वारा इसके लिए पहल शुरू की जा रही है। वायुसेना आवास बोर्ड द्वारा इस दिशा में कोशिश शुरू कर दी गई है। दिल्ली-एनसीआर में भी योजना के तहत अपार्टमेंट बनाने का लक्ष्य तय किया जा रहा है।





एक अखबार में छपी खबरों के मुताबिक वायुसेना आवास बोर्ड का जिम्मा वायुसेना एवं नौसेना के जवानों के लिए आवासीय सुविधा उपलब्ध कराना है। यह संस्थान बिना लाभ-हानि के यह कार्य करता है। अभी तक हाउसिंग बोर्ड और हाउसिंग सोसायटियों के जरिए सैन्यकर्मियों को आवास उपलब्ध कराए जाते थे पर कीमतें अधिक होने के कारण बहुत कम जवानों को इसका लाभ मिल पाता था। अब प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत शुरू की गई अफोर्डेबल हाउसिंग योजना के तहत सरकार ने जवानों के लिए भी घर बनाने का निर्णय लिया है।

इसमें 14-15 लाख में दो बेडरूम वाले फ्लैट जवानों को मिल सकेंगे। वायुसेना-नौसेना आवास बोर्ड ने उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली और आन्ध्र प्रदेश आदि सरकारों को पत्र लिखकर इस परियोजना के लिए जमीन आवंटन की मांग रखी है। बोर्ड की ओर से सरकारों को पत्र लिखकर कहा गया है कि अगर वे जमीन प्रदान करेंगे तो प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत जवानों को कम कीमक पर फ्लैट मिल सकेंगे।

वायुसेना बोर्ड ने राज्यों से जमीन आवांटित करने को कहा है, जिससे कि जवानों को 14-15 लाख रुपये में अपने शहर में जवानों को फ्लैट मुहैया हो सकें।

रक्षक न्यूज की राय:

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत शुरू की गई अफोर्डेबल हाउसिंग स्कीम में जवानों को आशियाना मिलने से उनका एक सपना पूरा होगा। खास बात यह है कि घर उन्हें अपने शहर या दिल्ली-एनसीआर में मिलेंगे। सेना और सरकार को पहल जल्द करनी होगी ताकि उन्हें एक समयावधि पर फ्लैट्स मिल सकें।

Comments

Most Popular

To Top