Army

प्रथम विश्व युद्ध में शहीद भारतीय जवानों का 100 साल बाद अंतिम संस्कार

गढ़वाल रायफल्स

प्रथम विश्व युद्ध में ब्रिटेन की ओर से लड़ते हुए फ्रांस में शहीद हुए गढ़वाल रायफल्स के दो सैनिकों का अंतिम संस्कार फ्रांस के ला जार्ज, सैन्य कब्रिस्तान में कर दिया गया। इस मौके पर इंडियन आर्मी की ओर से एक शिष्टमंडल इस खास आयोजन में गढ़वाल रायफल्स के कमांडेंट ब्रिगेडियर इंद्रजीत चटर्जी, एक सूबेदार, रेजीमेंट के पाइप बैंड के दो सदस्य और कर्नल नितिन नेगी शामिल हुए।





सेना के मुताबिक ये दोनों जवान 39वीं रॉयल गढ़वाल रायफल्स के थे और फ्रांस के पुरातत्वेताओं को इनके पार्थिव शरीर के अवशेष 20 सितंबर, 2016 को पेरिस से लगभग 225 किमी दूर एक गांव में खुदाई के दौरान मिले थे। जांच के बाद इनकी पहचान 39वीं गढ़वाल रायफल्स के जवानों के रूप में हुई थी।

भारत के राजदूत विनय मोहन क्वात्राने इन शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। उनके साथ शहर के मेयर और अन्य अधिकारी और करीब डेढ़ सौ भारतीय श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे।

Comments

Most Popular

To Top