Army

6 महीने में 80 आतंकियों का खात्मा,115 की अब भी तलाश

एक्शन-में-जवान

श्रीनगर। कश्मीर में आतंकियों के साथ पुलिस और सुरक्षाकर्मियों की मुठभेड़ कोई नई बात नहीं। लेकिन सेना की विक्टर फोर्स ने जो आंकड़ा पेश किया है वो चौंकाने वाला है। सेना के जीओसी मेजर जनरल बीएस राजू के मुताबिक दक्षिण कश्मीर में इस वक्त 114 आतंकी सक्रिय हैं। इसमें बाहरी आतंकी 15 और 99 स्थानीय आतंकी हैं।





आतंकियों से गुरुवार को मुठभेड़ के दौरान 2 जवान शहीद हो गए। जम्मू-कश्मीर के पंपोर के पास सामबोरा गांव में हुए मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया जबकि 2 आतंकी भागने में कामयाब हो गए। मारा गया आतंकी बदर जैश-ए-मोहम्मद का सदस्य था।

115 आतंकियों में दर्जन भर विदेशी 

बीएस राजू के अनुसार इस समय दक्षिण कश्मीर में लगभग 115 आतंकी हैं जिनमें एक दर्जन के करीब विदेशी होंगे और अन्य सारे स्थानीय आतंकी हैं। लोकल आतंकियों में भी अधिक्तर बीते एक से डेढ़ वर्ष के अन्तराल ही आतंकियों गुट ज्वाइन किए होंगे। इन आतंकियों को मुख्यधारा में लाने के लिए हर संभव कोशिशें की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि आतंकियों के परिजनों के साथ लगातार संवाद बनाया जा रहा है। सेना उन्हें यकीन दिला रही है कि अगर उनके भटके हुए बच्चे वापस मुख्यधारा में लौटने के लिए आत्मसमर्पण करते हैं तो उनके पुनर्वास में हर संभव सहयोग किया जाएगा। कई लोगों पर हमारी कोशिशों का सकारात्मक प्रभाव देखने को मिला है।

घाटी से उखड़ रहे हैं दहशतगर्दों के पैर

सेना कश्मीर के पुलवामा, हंदवाड़ा, कुलगाम, राजोरी सेक्टर, सोपोर और त्राल जैसे संवेदनशील इलाकों में काफी सक्रिय भूमिका में है और दहशतगर्दों के पैर उखाड़ने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रही। बहरहाल, उम्मीद यहीं की जा रही है कि जांबाज सुरक्षा प्रहरी जल्द ही अपने हौसलों और दमदार रणनीतियों के बल पर आतंकवाद पर अंकुश लगाने में कामयाब रहेंगे।

 

Comments

Most Popular

To Top