Forces

सशस्त्र सेना झंडा दिवस: जवानों की वीरता, सेवा और निस्वार्थ बलिदान पर देश को गर्व है- प्रधानमंत्री

झंडा दिवस पर फ्लैग लगवाते प्रधानमंत्री मोदी
फोटो सौजन्य- ट्वीटर

नई दिल्ली। देश के आन-बान और शान के खातिर सीमाओं पर बहादुरी से लड़ाई लड़ने वाले जवानों को सम्मानित करने के लिए हर वर्ष 07 दिसंबर को ‘सशस्त्र सेना झंडा दिवस’ मनाया जाता है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारतीय सशस्त्र सेनाओं की वीरता को सलाम किया।





मीडिया खबरों के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी ने जवानों की वीरता को सलाम करते हुए कहा कि सशस्त्र सेना झंडा दिवस हमारे सशस्त्र बलों और उनके परिवारों के प्रति आभार व्यक्त करने का दिन है। देश को उनके साहस, वीरता, सेवा और निस्वार्थ बलिदान पर गर्व है। उन्होंने कहा कि हमारी सेनाओं के कल्याण में योगदान दें। यह कार्य हमारे कई बहादुर कर्मियों और उनके परिवारों की मदद करेगा।

उधर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने टावीट कर कहा कि सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर मैं भारतीय सशस्त्र बलों की वीरता और सेवा को सलाम करता हूं। यह दिन हमें पूर्व सैनिकों, युद्ध में जख्मी हुए जवानों और उन लोगों के परिवारों का कल्याण सुनिश्चित करने के लिए हमारे महान कर्तव्य की याद दिलाता है, जिन्होंने देश की रक्षा करते हुए अपनी जान की बाजी लगा दी।

गौरतलब है कि भारत 07 दिसंबर, 1949 से सशस्त्र सेना झंडा दिवस मनाता आ रहा है। इस दिन को जवानों के लिए अहम माना जाता रहा है। यही कारण है कि इस दिन भारतीय सेना अपने बहादुर जवानों के कल्याण के लिए भारत की जनता से धन संग्रह करती है।

Comments

Most Popular

To Top