Air Force

स्पेशल रिपोर्ट: राफेल के उत्पादन पर कोरोना का असर

राफेल लड़ाकू विमान
फाइल फोटो

नई दिल्ली। फ्रांस में भारतीय वायुसेना के लिये जिस कारखाने में राफेल लड़ाकू विमान का उत्पादन किया जा रहा है वहां कोरोना वायरस की वजह से अस्थायी तौर पर काम काज रोक दिया गया है। इस कारण राफेल लड़ाकू विमानों  के उत्पादन के कार्यक्रम पर असर पड़ सकता है। यहां मिली रिपोर्ट्स के मुताबिक  राफेल विमानों को उड़ाने के लिये दिये जा रहे प्रशिक्षण पर भी प्रतिकूल असर पड़ा है।





गौरतलब है कि फ्रांस में भी कोरोना वायरस का प्रकोप फैला हुआ है और वहां भी इस कीटाणु को फैलने से रोकने के लिये सार्वजनिक प्रतिष्ठानों को बंद किया जा रहा है।

फ्रांस की कम्पनी दासो एविएशन द्वारा राफेल विमानों का उत्पादन  किया जा रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक  कम्पनी की  बोर्दो मेरिगनैक उत्पादन सुविधा में आगामी 31 मार्च तक कामकाज ठप रहेगा क्योंकि कर्मचारियों को छुट्टी दी गई है। कोरोना वायरस के तेजी से  फैलने के मद्देनजर राफेल बनाने वाली कम्पनी ने एहतियाती तौर पर यह कदम उठाया है।

सूत्रों के मुताबिक यदि राफेल के कारखाने में इस महीने के अंत तक काम ठप रहता है तो राफेल की सप्लाई में देरी हो सकती है। गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना के लिये फ्रांस में इन दिनों 36 लड़ाकू विमान बनाए जा रहे हैं। फ्रांस ने सूचित किया था कि इस साल के अंत तक 11 राफेल विमानों की सप्लाई हो जाएगी। इनमें से 04 बनाए जा चुके हैं और इनका इन दिनों परीक्षण चल रहा है। इसके साथ ही 04 राफेल विमानों का उत्पादन काफी अडवांस्ड अवस्था में है। पहले 04 राफेल विमानों को गत अक्टूबर माह में ही भारतीय वायुसेना को सौंपे जा चुके हैं जिनकी इन दिनों परीक्षण उड़ान चल रही है।

Comments

Most Popular

To Top