Air Force

स्पेशल रिपोर्ट: एयर मार्शल सुरेश बने पश्चिमी वायुसैनिक कमांड के प्रमुख

एयर मार्शल बी सुरेश

नई दिल्ली। एयर मार्शल बी सुरेश ने पश्चिमी वायुसैनिक कमांड के एयर ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ का दायित्व सम्भाल लिया है। यह दायित्व सम्भालने के पहले पश्चिमी वायुसैनिक कमांड के मुख्यालय में सलामी गार्ड का निरीक्षण किया। इस दौरान एयर मार्शल सुरेश ने  भारतीय वायुसेना औऱ देश के नजरिये से पश्चिमी वायुसैनिक कमांड के लिये अपनी सोच की व्याख्या की।





एयर मार्शल सुरेश राष्ट्रपति द्वारा साल 2019 में  परम विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित है। उन्हें वर्ष 2005 में अतिविशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया  गया था।  वह इस साल राष्ट्रपति के एडीसी भी नियुक्त किये गए थे। एयर मार्शल सुरेश 47 सालों से सैनिक वर्दी पहन रहे हैं। 1972 में वह देहरादून स्थित राष्ट्रीय इंडियन मिलिट्री कालेज में भर्ती हुए थे। वह राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के स्नातक हैं और 13 दिसम्बर, 1980  को भारतीय वायुसेना में एक लड़ाकू के तौर पर भर्ती हुए थे। वह डिफेंस सर्विस स्टाफ कॉलेज, वेलिंगटन औऱ क्रेनफील्ड विश्वविद्यालय, ब्रिटेन के स्नातक हैं।

Comments

Most Popular

To Top