Air Force

स्पेशल रिपोर्ट: एयर मार्शल चौधरी ने सम्भाला पश्चिमी वायुसैनिक कमांड का दायित्व

फाइल फोटो

नई दिल्ली। एयर मार्शल बी आर चौधरी ने पश्चिमी वायुसैनिक कमांड के एयर आफीसर कमांडिंग इन चीफ  का दायित्व एक अगस्त से सम्भाल लिया है। उन्होंने यह दायित्व एयर मार्शल बी सुरेश से सम्भाला है जिन्होंने अवकाशग्रहण कर लिया है।





एयर मार्शल चौधरी वायुसेना की लड़ाकू शाखा में  29 दिसम्बर, 1982 को भर्ती हुए थे।  वायुसेना में सेवा का 38 सासों का उनका  उल्लेखनीय करियर रहा है।  उन्होंने वायुसेना के बेडे में  कई तरह के लडाकू और प्रशिक्षक विमानों को उडाने का अनोखा अनुभव हासिल किया है।  उनका  वायुसेना में 38 सौ घंटे का अनोखा उड़ान अनुभव रहा है। उन्होंने मिग-21, मिग-23, मिग-29 और सुखोई-30एमकेआई विमान उड़ाए हैं।

अपने सेवा काल में उन्होंने कई अहम दायित्व सम्भाले हैं।  वह अग्रिम मोर्चे पर तैनात लडाकू स्क्वाड्रन के कमाडिंग आफीसर रहे हैं। इसके अलावा एयर वाइस मार्शल की हैसियत से अग्रिम वायुसैनिक अड्डे की कमान सम्भाली है। वह असिस्टेंट चीफ आफ एयर स्टाफ आपरेशंस रहे हैं।  वह वायुसेना मुख्यालय में डिपुटी चीफ आफ एयर स्टाफ रहे हैं। वह डिफेंस सर्वेसज स्टाफ कालेज, वेलिंगटन  के स्नातक रहे हैं। उन्होंने 2004 में वायुसेना मेडल औऱ 2015 में अतिविशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया है।

Comments

Most Popular

To Top