Air Force

स्पेशल रिपोर्ट: एयर मार्शल बेदी सीनियर एयर स्टाफ ऑफिसर

फाइल फोटो

नई दिल्ली। एयर मार्शल गुरुचरण सिंह बेदी ने पूर्वी वायुसैनिक कमांड में सीनियर एयर स्टाफ आफीसर के तौर पर अपना दायित्व सोमवार को  ग्रहण कर लिया है।





एय़र मार्शल बेदी ने जून, 1984 में भारतीय वायुसेना में लडाकू पायलट के तौर पर कमीशन लिया था।  उनका मिग-21 और मिराज-2000 लडाकू विमानों पर 37 सौ घंटे से अधिक का उडान अनुभव रहा है।

भारतीय वायुसेना में अपने गौरवशाली करियर में  एयर मार्शल बेदी ने कई अहम जिम्मेदारियां सम्भाली हैं।  उन्होंने  एक लडाकू वायुसैनिक अड्डे के स्क्वाड्रन की कमान सम्भाली है।  एयर वाइस मार्शल की हैसियत से उन्होंने जम्मू कश्मीर के एयर आफीसर कमांडिंग की अहम  जिम्मेदारी सम्भाली है।  उन्होंने  वायुसेना मुख्यालय में  असिस्टेंट चीफ आफ एयर स्टाफ ( आफेंसिव) का  संवेदनशील दायित्व सम्भाला है।

सीनियर एयर स्टाफ आफीसर का मौजुदा दायित्व सम्भालने के पहले एयर मार्शल बेदी दक्षिणी वायुसैनिक कमांड में सीनियर एयर स्टाफ आफीसर रहे हैं।  वह डिफेंस सर्विसेज  स्टाफ कालेज और नैशनल डिफेंस कालेज के स्नातक रहे हैं।

 उल्लेखनीय सेवा के लिये एयर मार्शल बेदी को  अगस्त 1999 में  वीरता के लिये वायुसेना मेडल , जनवरी , 2010 में  विशिष्ट सेवा मेडल और इस साल जनवरी में अतिविशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया गया है।

Comments

Most Popular

To Top