Air Force

वायुसेना ने बाढ़ में फंसे लोगों को ऐसे निकाला

वायुसेना ने बचाई जान

अहमदाबाद। पिछले कुछ दिनों के दौरान गुजरात व राजस्‍थान में भारी वर्षा हुई है। इन राज्यों के बाढ़ग्रस्त इलाकों में भारतीय वायुसेना दिन-रात आपदा राहत के काम में लगी हुई है। वायुसेना ने तुरंत कार्रवाई करते हुए बाढ़ में फंसे लोगों को वहां से निकालने का काम किया है। विपरीत मौसम के बावजूद बाढ़ में फंसे लोगों की मदद के लिए भारतीय वायुसेना ने गुजरात में 220 और राजस्थान में 35 उड़ानों का परिचालन किया।





गौरतलब है कि स्‍थिति की गंभीरता को देखते हुए राज्‍य आकस्‍मिक परिचालन इकाई ने भारतीय वायु सेना से मेहसाना, दीसा, बनासकांठा और पाटन जैसे बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्य प्रारंभ करने का निवेदन किया थी। इसके अनुरूप वायुसेना ने तुरंत कार्रवाई करते हुए राहत व बचाव कार्यों के लिए राज्‍य के विभिन्‍न क्षेत्रों में एमआई-17वी5 और चेतक हेलिकॅाप्‍टरों की तैनाती की।

मानवीय सहायता और आपदा राहत (HADR) इकाई का दक्षिण-पश्‍चिमी एयर कमांड, गांधीनगर में गठन किया गया ताकि वह 24 घंटे राहत कार्यों की निगरानी कर सके। चुनौतीपूर्ण मौसम और सीमित भूमि उपलब्‍धता के बावजूद हेलिकॉप्‍टरों ने बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए बचाव कार्य किए। इन राहत-बचाव कार्यों में एक रोगी को उसके घर के छत से एयरलिफ्ट किया गया, जिसे डायलिसिस की सख्‍त जरूरत थी। इसके अतिरिक्‍त एक गर्भवती महिला को उसके छोटे बच्‍चे और पति के साथ एयरलिफ्ट किया गया।

विपरीत मौसम के बावजूद भारतीय वायुसेना के राहत व बचाव दल द्वारा गुजरात में 220 छोटी उड़ानों तथा राजस्‍थान में 35 छोटी उड़ानों का परिचालन किया गया। वायुसेना के बचाव दल द्वारा गुजरात राज्‍य में बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में कुल 86 टन खाद्य सामग्रियों के पैकेट गिराये गये। संचार के लिए दीसा में एक रडार का संचालन प्रारंभ किया गया। रडार को एएन32 एयरक्राफ्ट से अहमदाबाद लाया गया और फिर सड़क मार्ग द्वारा दीसा पहुंचाया गया।

सी-17 और सी-130जे एयरक्राफ्ट ने एनडीआरएफ कर्मियों तथा उनके सामानों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के नजदीकी हवाई अड्डों तक पहुंचाया।

Comments

Most Popular

To Top