Army

परीक्षण में फेल हो गईं 1430 बुलेट प्रूफ जैकेट

मुंबई। वर्ष 2008 में 26 नवंबर को मुंबई पर हुए आतंकी हमले के बाद तय किया गया था कि जवानों को बुलेट प्रूफ जैकेट दी जायेंगी। और इस बाबत महाराष्ट्र पुलिस ने एक कंपनी को पांच हजार बुलेट प्रूफ जैकेट बनाने का आदेश दिया था। कंपनी ने महाराष्ट्र पुलिस को 4600 बुलेट प्रूफ जैकेट की आपूर्ति भी कर दी लेकिन पुलिस को 1430 जैकेट जैकेट निर्माताओं को वापस करनी पड़ीं क्योंकि टेस्ट के दौरान AK-47 की गोलियां इनमें से होकर गुजर गईं।





मीडिया खबरों के मुताबिक महाराष्ट्र पुलिस के अतिरिक्त महानिदेशक (खरीद और समन्वय) वीवी लक्ष्मीनारायण ने बताया कि टेस्ट में फेल होने के कारण एक तिहाई बुलेट प्रूफ जैकेट निर्माता कंपनी को लौटा दी गईं। बता दें कि इन जैकेटों को कानपुर की एक कंपनी ने तैयार किया था। महाराष्ट्र पुलिस ने कंपनी को पांच हजार बुलेट प्रूफ जैकेट बनाने का आदेश दिया था। कंपनी सिर्फ पुलिस ही नहीं केन्द्रीय सुरक्षा बलों को भी जैकेट मुहैया कराती है। कंपनी ने 4600 जैकेट तैयार कर पिछले वर्ष अर्थात 2017 की अंतिम तिमाही में पुलिस को जैकेट की खेप भेजी थी। खबर के मुताबिक जब चंडीगढ़ स्थित Central Forensic Science Laboratory में परीक्षण किया गया तो सिर्फ 3000 जैकेट ही पास हो पाईं। पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक जैकेट निर्माता कंपनी को 1430 जैकेट बदल देने के लिए कहा गया है।

Comments

Most Popular

To Top