Featured

रूस की यह मिसाइल उड़ा सकती है अमेरिका समेत पूरी दुनिया की नींद

रूसी मिसाइल

मॉस्को। रूस के उप-प्रधानमंत्री यूरी बोरिसोव के मुताबिक रूस ने ऐसी मिसाइल विकसित की है जो किसी भी देश की रक्षा प्रणाली को भेदने में सक्षम है। रूस ने बुधवार (26 दिसंबर) को ध्वनि की गति से 27 गुना तेजी से उड़ान भरने वाली मिसाइल का परीक्षण किया है।





बोरिसोव ने कहा कि नए हथियार मिसाइल डिफेंस सिस्टम को बेकार कर देंगे। उनका यह बयान राष्ट्रपति पुतिन की निगरानी में एवनगार्ड के सफल परीक्षण के एक दिन बाद आया है। हाइपरसोनिक मिसाइल के टेस्ट के बाद पुतिन ने कहा कि रूस नए तरह के रणनीतिक हथियारों को बनाने वाला दुनिया का प्रथम देश बन गया है और  यह देश की सुरक्षा को पूरी तरह से अभेद्य बनाएगा। रूस ने इस मिसाइल का नाम एवनगार्ड रखा है।

‘स्काई न्यूज’ के मुताबिक बुधवार को परीक्षण के दौरान इस मिसाइल को दक्षिणी-पश्चिमी रूस के इलाके से लॉन्च किया। इस मिसाइल ने 5,954 किमी दूर स्थित लक्ष्य को सफलतापूर्वक भेदा। इस मिसाइल की लॉन्चिंग के मौके पर रूस के राष्ट्रपति पुतिन भी मौजूद थे। मालूम हो कि अमेरिका द्वारा एंटी बैलिस्टिक मिसाइल संधि से हटने के बाद रूस ने एवनगार्ड प्रोजेक्ट की वर्ष 2002 में शुरुआत की थी। अमेरिका और रूस के बीच एंटी-बैलेस्टिक मिसाइल संधि वर्ष 1972 में हुई थी। पर शीट युद्ध खत्म होने के बाद 2002 में अमेरिका ने दोनों देशों के बीच की इस संधि को तोड़ने का फैसला किया।

Comments

Most Popular

To Top