Featured

स्वच्छ भारत अभियान: वायुसेना ने कार और बाइक रैली का किया स्वागत

कार एवं बाइक रैली का आयोजन

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना की पश्चिमी एयर कमांड के मुख्यालय में 10 से 23 अगस्त, 2018 तक नई दिल्ली से थोइसे तक कार एवं बाइक रैली का आयोजन किया गया। रैली को 10 अगस्त को एयर मार्शल एनजेएस. ढिल्लों, एवीएसएम, वरिष्ठ एयर स्टाफ अधिकारी, पश्चिमी एयर कमांड नई दिल्ली ने रवाना किया था। रैली का उद्देश्य प्रधानमंत्री के श्रेष्ठ अभियान, ‘स्वच्छ भारत अभियान’ को मार्ग में  पर्यटकों एवं स्थानीय लोगों के बीच बढ़ावा देना था।





12 हवाई योद्धाओं की टीम का नेतृत्व पश्चिमी एयर कमांड के वरिष्ठ प्रभारी अधिकारी प्रशासन, एयर वाइस मार्शल एके. सिंह, एवीएसएम, वीएसएम ने किया। 15 दिन के दौरान टीम ने दिल्ली से थोइसे तक की यात्रा की और यात्रा के दौरान लगभग 3,200 किलोमीटर की दूरी तय कर के 23 अगस्त को नई दिल्ली पहुंची। रैली अपने गन्तव्य स्थल थोइसे जाते हुए अंबाला, मनाली, जिस्पा तथा लेह से होकर गुजरी तथा वापसी दिल्ली के लिए दराश, करगिल, श्रीनगर, उधमपुर तथा अंबाला से होती हुई लौटी। मनाली-लेह अक्षांश पर अप्रत्याशित वर्षा तथा मौसम की कठोर परिस्थितियों की वजह से टीम को मार्ग में काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन उनके जज्बे में कोई कमी नहीं आई।

अपनी यात्रा के दौरान टीम ने स्वच्छता के महत्व के प्रति जनसाधारण को जागरुक बनाने के उद्देश्य से कुल्लू, मनाली, लेह, थोइसे, खरदुंगला तथा रोहतांग में स्वच्छता अभियान आयोजित किए। टीम ने स्थानीय लोगों तथा पर्यटकों से बातचीत भी की, डस्टबिन, पेम्फलेट्स वितरित किए तथा मुख्य पर्यटक स्थलों पर बैनर भी लगाए। दल प्रमुख एयर वाइस मार्शल एके. सिंह ने बताया कि कई स्थानों पर हमने ऐसे पर्यटकों की सहायता की, जिनके वाहन खराब हो गए थे और हमने ये सुनिश्चित किया कि स्वच्छ भारत का संदेश उन्होंने ग्रहण किया है।’

नई दिल्ली में पश्चिमी एयर कमांड में एयर मार्शल सी हरि कुमार, पीवीएसएम, एवीएसएम वीएम वीएसएम एडीसी, एयर ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ, मुख्यालय पश्चिम एयर कमांड, नई दिल्ली ने 23 अगस्त को रैली का स्वागत किया। एयर मार्शल हरि कुमार ने कहा कि मुझे अत्यधिक प्रसन्नता है कि टीम अपने उद्देश्यों को हासिल करने में सफल रही और सुरक्षित वापस लौट आई। भारतीय वायु सेना का ये प्रयास रहता है कि सभी में साहस का जज्बा बढ़ाया जाए तथा सरकार की पहल को प्राथमिक स्तर से ही आत्मसात किया जाए।

Comments

Most Popular

To Top