Featured

बौखलाए आतंकियों ने पुलिसकर्मियों के 9 परिजनों को अगवा किया

जम्मू-कश्मीर पुलिस
जम्मू-कश्मीर पुलिस (प्रतीकात्मक)

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों की कार्रवाई से आतंकी इतने बौखला गये हैं कि अब उन्होंने  पुलिसकर्मियों और उनके परिवारों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। दो दिन पहले ही आतंकियों ने एक पुलिस टीम पर हमला किया था जिसमें चार पुलिसकर्मी शहीद हो गये थे। अब खबर यह आ रही है कि गत दो दिनों में अज्ञात आतंकवादियों के समूह ने घाटी के अलग-अलग स्थानों से 9 लोगों को अपहृत कर लिया है। हालांकि पुलिस ने अभी इन वारदातों की पुष्टि नहीं की है।





मीडिया खबरों के मुताबिक अपहृत किये गये सभी लोग पुलिसकर्मियों के रिश्तेदार हैं। खबर यह भी है कि सेना सर्च ऑपरेशन चलाकर इनकी तलाश में जुटी हुई है।

एक अखबार के मुताबिक दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के अरवानी बिजबेहड़ा से आतंकियों ने आरिफ अहमद नाम के युवक का अपहरण कर लिया। बताया जाता है कि आरिफ का भाई जम्मू-कश्मीर पुलिस में एसएचओ है। अरवानी से ही जुबैर अहमद के अपहरण की भी खबर है। जुबैर के पिता मोहम्मद मकबूल भी पुलिस में हैं।

इसी तरह कुलगाम और गांदरबल जिलों से भी पुलिसकर्मियों के परिजनों को अगवा किए जाने का समाचार है। कुलगाम जिले से आतंकियों ने खारपोरा निवासी फैजान और येरीपोरा निवासी सुमेर अहमद का अपहरण कर लिया। फैजान के पिता बशीर अहमद जम्मू-कश्मीर पुलिस में तैनात हैं। सुमेर अहमद के पिता अब्दुल सलेम भी पुलिस में काम करते हैं। काटापोरा के DSP एजाज अहमद के भाई गौहर अहमद को भी आतंकियों ने अपहृत कर लिया है। गांदरबल जिले में एक पुलिसकर्मी के रिश्तेदार की अपहरण के बाद आतंकियों ने पिटाई भी की।

सरक्षा बलों में काम कर रहे स्थानीय नागरिकों को आतंकी पिछले कुछ समय से लगातार निशाना बना रहे हैं। पुलिस औऱ सुरक्षा बलों में कार्यरत कई जवानों की आतंकियों ने अपहरण के बाद हत्या की है। आतंकी स्थानीय लोगों को पुलिस और सुरक्षा बलों की नौकरी छोड़ने के लिए दबाव बना रहे हैं। अब आतंकी पुलिसकर्मियों के परिजनों को निशाना बना रहे हैं।

Comments

Most Popular

To Top