Featured

अब सिर्फ ड्रोन पायलट ही नहीं अधिकारी भी ले रहे हैं प्रशिक्षण

सैन्य ड्रोन

नई दिल्ली। Indian Institute of Drones (IID) ने भारत में ड्रोन के लिए नियामक रूपरेखा तैयार करने में शामिल नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) अधिकारियों और अन्य सरकारी एजेंसियों के लिए कॉम्पैक्ट क्रैश कोर्स कार्यशाला का आयोजन किया गया।





कार्यशाला के साथ-साथ IID ने अन्य देशों में ड्रोन रेगुलेशन, सैन्य ड्रोन पर एक सेमीनार का भी आयोजन किया। इसमें इस विषय से जुड़े पहलूओं पर क्या करें और क्या बेहतर नहीं है, इसकी जानकारी दी गई।

गौरतलब है कि Indian Institute of Drones (IID) उत्तर प्रदेश सरकार के साथ शैक्षिक अधिनियम के तहत एक पंजीकृत गैर लाभकारी संगठन है। संस्थान अब तक चार सौ पचास से अधिक ड्रोन पायलटों को प्रशिक्षित कर चुका है। भारतीय वायुसेना से रिटायर्ड चार से ज्यादा योग्य सैन्य UAV पायलटों और पूरे देश में सात केन्द्रों के साथ यह संस्थान उड़ान सुरक्षा और कड़ी प्रशिक्षण नीतियों का पालन करता है।

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) नागरिक उड्डयन के सुरक्षा पहलूओं और भारत में ड्रोन के लिए नियामक रूपरेखा को नियंत्रित करने वाला नियामक निकाय है।

Comments

Most Popular

To Top