Featured

NOS-DCP बैठक, मंगलौर पोर्ट ट्रस्ट को समुद्री पर्यावरण संरक्षण ट्राफी

न्यू मैंगलोर पोर्ट ट्रस्ट

नई दिल्ली। National Oil Spill Disaster Contingency Plan (NOS-DCP) के तहत तेल फैलाव का सामना करने की तैयारियों की चर्चा के लिए गुरुवार को गांधीनगर (गुजरात) में एक बैठक हुई। इस बैठक में चर्चा के लिए मंत्रालयों, तटीय राज्यों, छोटे-बड़े बंदरगाहों तथा तेल एजेंसियों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इस मौके पर पर्यावरण संरक्षण और पर्यावरण अनुकूल उपायों को अपनाने में उत्कृष्ट योगदान के लिए न्यू मंगलौर पोर्ट ट्रस्ट को समुद्री पर्यावरण संरक्षण ट्राफी से भी सम्मानित किया गया।





केन्द्र सरकार ने देश के सभी नौ तटीय राज्यों में NOS-DCP को लागू करने के लिए भारतीय तटरक्षक बल को अधिकृत किया है। इस बैठक में 44 एजेंसियों के कुल 72 प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।

इस अवसर पर NOS-DCP के अध्यक्ष तथा भारतीय तटरक्षक बल के महानिदेशक राजेन्द्र सिंह ने जिम्मेदारी के क्षेत्रों में प्रावधानों को लागू करने में हितधारकों के प्रयासों की सराहना की। इस मौके पर उन्होंने दीनदयाल पोर्ट ट्रस्ट के उपसंरक्षक कैप्टन टी.निवास तथा मुंद्रा पोर्ट के एसोसिएट वाइस प्रेजीडेंट को सफलतापूर्वक और जिम्मेदारी के साथ आग बूझाने के लिए राष्ट्रीय समुद्री पर्यावरण संरक्षण प्रमाण पत्र से सम्मानित किया।

इस मौके पर पर्यावरण संरक्षण और पर्यावरण अनुकूल उपायों को अपनाने में उत्कृष्ट योगदान के लिए न्यू मंगलौर पोर्ट ट्रस्ट को समुद्री पर्यावरण संरक्षण ट्राफी से भी सम्मानित किया गया। उल्लेखनीय है कि दक्षिण एशियाई समुद्री क्षेत्र में तेल और रासायनिक फैलाव का सामना करने के लिए हाल ही में भारतीय तटरक्षक बल को अधिकृत किया गया है।

Comments

Most Popular

To Top