Featured

ब्रिटेन जाने वाले भारतीयों में 32 प्रतिशत इजाफा

भारत से ब्रिटेन जाने वाले छात्र
भारत से ब्रिटेन जाने वाले छात्र (प्रतिकात्मक)

नई दिल्ली। ब्रिटेन के कड़े वीजा नियम के बावजूद भारत से ब्रिटेन जाने वाले छात्रों और पर्यटकों की संख्या में उल्लेखनीय इजाफा हुआ है। यहां ब्रिटेन के उच्चायुक्त डोमिनिक एस्किथ ने ब्रिटेन जाने वाले भारतीयों के ताजा आंकड़ों पर टिप्पणी करते हुए कहा कि ये आंकडे पिछले वक्त से चल रहे रुख को दर्शाते हैं कि अधिक से अधिक भारतीय ब्रिटेन पढ़ने के लिये और घूमने के इरादे से जा रहे हैं।





डोमिनिक अस्किथ ने कहा कि मुझे खासकर इस बात पर खुशी है कि ब्रिटेन में भारतीय छात्रों की संख्या में 32 प्रतिशत इजाफा हुआ है। इस बात का मैं स्वागत करता हूं कि छात्र हमारे विश्वस्तर के शिक्षण संस्थानों में पढ़ाई करना चाहते हैं।

ब्रिटिश उच्चायोग द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक जून , 2018 के अंत तक 550,925 भारतीयों को ब्रिटिश वीजा जारी किये गए। यह पिछले साल की तुलना में 10 प्रतिशत अधिक है। इस दौरान विजिट वीजा 10 प्रतिशत बढ़कर 454,658 हो गया जिससे पता चलता है कि अधिक से अधिक भारतीय छुट्टियां बिताने के लिये ब्रिटेन जाना पसंद करते हैं।

छात्रों के लिये जारी टी-4 वीजा बढ़कर 15,390 हो गया जो कि पिछले 12 महीनों के भीतर 32 प्रतिशत अधिक है। इस दौरान 65 सौ से अधिक भारतीय ब्रिटेन में अल्पकालिक अध्ययन के लिये गए। यह लगातार तीसरा साल है जब छात्र वीजा की संख्या बढ़ी है। बाकी दुनिया को मिलाकर जितना वर्क वीजा जारी किया जाता है उससे अधिक भारतीयों को यह मिलता है। पिछले साल 60,000 से अधिक वर्क वीजा जारी किये गए।

Comments

Most Popular

To Top