Top Stories

सेना की बढ़ेगी ताकत, रुस्तम 2 फ्लाइट का कामयाब परीक्षण, जानिए 6 खास बातें

नई दिल्ला। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने रविवार को चित्रदुर्ग में चलाकेर स्थित अपने एयरोनौटिकल टेस्ट रेंज (एटीआर) से रुस्तम 2 उड़ान का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। यह फ्लाइट इस तथ्य के कारण काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि उच्च पावर इंजन के साथ user configuration में यह पहली फ्लाइट है। सभी मानक सामान्य रहे। रक्षा विभाग (आरएंडडी) के सचिव एवं डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉ. क्रिस्टोफर, एयरोनौटिकल सिस्टम के महानिदेशक डॉ. सी. पी. रामनारायणन, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं कम्युनिकेशन सिस्टम्स की डीजी जे. मंजुला एवं अन्य वैज्ञानिकों ने फ्लाइट का अवलोकन किया एवं रुस्तम टीम को बधाई दी।





चौबीस घंटे उड़ने की क्षमता रखता है रुस्तम

रुस्तम 2

मानव रहित रुस्तम 2 निरंतर 24 घंटे उड़ने की क्षमता रखता है। हथियार ले जाने में सक्षम रुस्तम की सटीक निगरानी इसे बेजोड़ बनाती है।

Comments

Most Popular

To Top