Listicles

महिला दिवस: देश की पहली महिला फायर फाइटर हर्षिनी कान्हेकर, जानें उनसे जुड़ी 7 खास बातें

फायर फाइटर बनना कोई आसान काम नहीं, आग पर काबू पाने में जहां बड़े फायर फाइटर्स के पसीने छूट जाते हैं वहीं किसी महिला के लिए यह जिम्मेदारी उठाना बेहद ही मुश्किल भरा काम होता है। लेकिन हर्षिनी कान्हेकर ऐसी ही मुश्किल जिम्मेदारी निभा रही हैं। जी हां, हर्षिनी भारत की पहली महिला फायटर पायलट हैं। आज हम आपको बता रहे हैं उनके इस खास सफर से जुड़ी खास बातें-





पहनना चाहती थीं सेना की वर्दी


महाराष्ट्र के नागपुर की रहनेवाली हर्षिनी कान्हेकर चाहती थीं कि वह सेना में जाएं और सेना की वर्दी पहनें लेकिन कुदरत को उनके लिए कुछ और ही मंजूर था। हर्षिनी बचपन से ही बेहद चुलबुली थीं। उनकी प्राथमिक शिक्षा नागपुर से ही पूरी की।

Comments

Most Popular

To Top