North India

इस क्रिकेटर से क्यों वापस लिया गया DSP का रैंक

हरमनप्रीत कौर

चंडीगढ़। अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित और भारतीय महिला टी20 क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर से Deputy Superintendent of Police  (DSP) का रैंक वापस ले लिया गया है। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के मुताबिक जांच में इस खिलाड़ी की स्नातक डिग्री फर्जी निकली है।





हरमनप्रीत कौर

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक मोगा निवासी हरमनप्रीत कौर ने गत एक मार्च को DSP के रूप में पंजाब पुलिस में ज्वाइन किया था। बताया जाता है कि उन्होंने वर्ष 2011 में जारी अपनी बीए की डिग्री जमा कराई थी जो उन्हें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से मिली थी। अब पंजाब सरकार ने हरमनप्रीत को चिट्ठी लिखकर कहा है कि उनकी शैक्षिक योग्यता सिर्फ 12वीं तक है इसलिए उन्हें सिर्फ कांस्टेबल की नौकरी दी जा सकती है। पंजाब पुलिस के नियमों के मुताबिक उनकी मौजूदा शैक्षिक योग्यता DSP के पद के योग्य नहीं है।

पंजाब सरकार के अधिकारी के मुताबिक राज्य सरकार हरमनप्रीत के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के पक्ष में नहीं है। उन्होंने कहा कि वह अतंर्राष्ट्रीय प्रतिष्ठित खिलाड़ी हैं। क्रिकेट में उनकी उपलब्धियों के आधार पर उन्हें DSP का पद दिया गया था।

अखबार ने इस बारे में जब हरमनप्रीत से उनके मोबाइल पर संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि उनकी तबियत ठीक नहीं है और आराम कर रही हैं। वह बाद में बात करेंगी।

हरमनप्रीत कौर क्रिकेट के तीनों प्रारूपों टेस्ट, एकदिवसीय और टी20 मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। दाएं हाथ की यह बल्लेबाज 87 एकदिवसीय मैचों में 35.41 रन की औसत से 2196 रन बना चुकी हैं। वह तीन शतक और 11 अर्धशतक भी बना चुकी हैं। 83 टी20 मैचों में 5 अर्धशतकों की मदद से 1616 रन बना चुकी हैं। पिछले वर्ष आईसीसी वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में हरमनप्रीत ने ऑस्ट्रेसिया के खिलाफ 115 गेंदों पर 7 छक्कों और 20 चौक्कों की मदद से नाबाद 171 रनों की पारी खेली थी।

Comments

Most Popular

To Top