North-Central India

UP पुलिस का दरोगा बनना चाहता है दिल्ली पुलिस का सिपाही, दुखी होकर दिया इस्तीफा  

मेरठ। बड़ी नौकरी के लिए छोटी नौकरी छोड़ देने का मामला आपने सुना होगा लेकिन लेकिन मेरठ में तैनात दरोगा ने दिल्ली पुलिस का सिपाही बनने के लिए दरोगा की नौकरी छोड़ दी। यूपी पुलिस के दरोगा अजीत सिंह द्वारा पुलिस की कार्य प्रणाली से नाखुश होकर दिए गए इस्तीफे ने सबको चौंका दिया है। साथ ही यूपी पुलिस की कार्य व्यवस्था पर एक बड़ा सवाल खड़ा किया है। ड्यूटी का कोई फिक्स टाइम न होना, न सोने का सही समय, न खाने की सुध और किसी मुश्किल वक्त में छुट्टी की आवश्यकता हो तो अफसरों के चक्कर काटने पड़ते हैं। ऐसी ही कई शिकायतों के साथ अलीगढ के रहने वाले और मेरठ में दरोगा के रूप में तैनात अजीत ने गुरूवार को एसएसपी मंजिल सैनी को अपना इस्तीफा देकर यूपी पुलिस को अलविदा कह दिया।





SSP मंजिल सैनी को सौंपा इस्तीफा

खबरों के मुताबिक जिला अलीगढ़ मूल निवासी अजीत सिंह ने 6 वर्ष पहले दिल्ली पुलिस में कॉन्स्टेबल के पद पर जॉइन किया था। लेकिन 2 वर्ष पहले दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल के पद से टेक्निकल रिजाइन देकर यूपी पुलिस में दरोगा के पद पर ज्वाइन किया था। गुरुवार को एसएसपी कार्यालय पहुंचे अजीत ने एसएसपी मंजिल सैनी को अपना इस्तीफा सौंपते हुए कहा कि वह तमाम समस्याओं के कारण अपने पद से इस्तीफा देकर दोबारा दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल के पद पर ज्वाइन करना चाहते हैं। गौरतलब है कि अजीत की तैनाती 6 माह पहले मेरठ के रोहटा थाने में हुई थी।

आपको बता दें कि यूपी में दरोगा के लिए चयनित हो जाने पर अजीत ने दिल्ली पुलिस की नौकरी टेक्निकल आधार पर छोड़ी थी जिसमें शर्त थी कि यदि वह दो वर्ष के भीतर फिर से समान पद पर नौकरी करना चाहें तो उन्हें यह नौकरी मिल सकती है। अजीत सिंह के मुताबिक अभी उन्हें नौकरी छोड़े दो साल पूरे नहीं हुए हैं।

इसलिए छोड़ी नौकरी

अजीत के अनुसार, अनिश्चत ड्यूटी के घंटे, आकस्मिक स्थिति में छुट्टी न मिलना, सही नींद न ले पाना खाने पीने का उचित समय न मिल पाना, दबाव में ड्यूटी करना, यूपी पुलिस से मोहभंग का सबसे बड़ा कारण है। अजीत ने बताया कि इस अनियमित दिनचर्या से उसके शरीर प्रभावित हो था है। पिछले दिनों में 12 किग्रा वजन कम हो गया है। एसएसपी ने अजीत का इस्तीफा रिक्रूटमेंट बोर्ड को भेजने की बात कही है। उनके अनुसार यूपी पुलिस की कार्यशैली से वह एकदम परेशान हो गए हैं और उनकी निजी जिन्दगी जैसे खत्म हो गई है।

Comments

Most Popular

To Top