North India

जानिए, IPS अफसरों के तबादले की चौंकाने वाली वजहें

छत्तीसगढ़ पुलिस

चंडीगढ़। पंजाब सरकार ने 18 आईपीएस अधिकारियों और 11 पीपीएस (पंजाब पुलिस सेवा) अधिकारियों समेत कुल 29 अफसरों के तत्काल प्रभाव से स्थानांतरण का आदेश दिया है। स्थानांतरित किए गए अधिकारियों में पुलिस महानिदेशक (डीजीपी), 13 पुलिस महानिरीक्षक और तीन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) शामिल हैं। ये एसएसपी और दो पुलिस कमिश्नर ऐसे हैं जिन्हें नई तैनाती हाल ही में मिली थी। इन तबादलों में प्रशासनिक से ज्यादा राजनीतिक असर नजर आ रहा है। कई कांग्रेस विधायक इसके लिए कई दिनों से लगे हुए थे। बता दें कि संगरूर में SSP रहते इन्दरबीर सिंह ने अपने तबादला आदेश के एक दिन बाद जिले के ज्यादातर SHO का तबादला कर दिया था। ये वे SHO थे जो ड्रग्स के खिलाफ अभियान के तहत एक प्रमुख मीटिंग के लिए रिपोर्ट तैयार कर रहे थे।





दो विधायकों को अपने आफिस के बाहर एक घंटे तक इंतज़ार कराया, नतीजा तबादला

आदेश के अनुसार, लुधियाना के पुलिस आयुक्त कुंवर विजय प्रताप को नवगठित आतंकवाद विरोधी दस्ते (ATS) में भेजा गया है। उन पर आरोप है कि उन्होंने दो विधायकों को अपने आफिस के बाहर एक घंटे तक इंतज़ार कराया। इसके अलावा उन्होंने महकमे में कुछ नए प्रयोग किए जो वरिष्ठ अधिकारियों को रास नहीं आए।

पुलिस महानिरीक्षक (IGP) आरएन ढोक को अब लुधियाना का पुलिस कमिश्नर बनाया गया है। इससे पहले वह पुलिस महानिदेशक कार्यालय से सम्बद्ध थे। 2014 में एक शातिर के अपहरण के आरोपी IGP गौतम चीमा को उनकी पहली महत्वपूर्ण तैनाती मिली है। उन्हें परमराज उमरानंगल की जगह IGP क़ानून-व्यवस्था-2 के रूप में तैनात किया गया है। अमृतसर के पुलिस कमिश्नर जी. नागेश्वर राव को सतर्कता निदेशक के रूप में वापस राजधानी ले आया गया है। उन्होंने वी. नीरजा की जगह ली है, जिन्हें IGP कार्मिक विंग में लाया गया है।

कांग्रेस के एक मंत्री के रिश्तेदार राज जीत सिंह को मोगा का SSP बनाया गया

जो तीन SSP बदले गए हैं उनमें संदीप गोयल को मोगा से लुधियाना भेजा गया है। लुधियाना के DCP और कांग्रेस के एक मंत्री के रिश्तेदार राज जीत सिंह को मोगा का SSP बनाया गया है। बरनाला के SSP सुशील कुमार और मुक्तसर के SSP बलजोत सिंह राठोर को एक दूसरे से बदल दिया गया है। जतिंदर ओलख को IGP मुख्यालय बनाया गया है। वह बादल सरकार के दौरान लुधियाना के पुलिस कमिश्नर थे। कुछ दिन पहले IGP क्राइम बनाए गए आरके जायसवाल को ड्रग्स से निबटने के लिए बनी स्पेशल टास्क फ़ोर्स (STF) में भेजा गया है।

एक आधिकारिक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि आंतरिक सतर्कता सेल (आईवीसी) और मानवाधिकार के प्रभारी डीजीपी हरदीप ढिल्लों को कल्याण का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। वर्तमान में IGP प्रोविजनिंग गुरप्रीत कौर देव को आईजीपी मुकदमेबाजी का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।

IGP जितेन्द्र जैन को पटियाला में IGP कमांडो का प्रभार दिया गया है, जबकि IGP आधुनिकीकरण सतीश अस्थाना को सूचना प्रौद्योगिकी और दूरसंचार (आईटीएंडटी) विंग और राज्य अपराध रिकार्ड ब्यूरो का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। शशि प्रभा द्विवेदी को IGP क्राइम का चार्ज दिया गया है। सुधांशु श्रीवास्तव को अमृतसर के पुलिस कमिश्नर का चार्ज दिया गया है। एलके यादव को IGP क्राइम और नौनिहाल सिंह को IGP कल्याण बनाया गया है।

Comments

Most Popular

To Top