Police

पुलिस की फॉरेंसिक टीम अब हर थाने में बनेगी

दिल्ली का डिफेंस कॉलोनी थाना

नई दिल्ली। केंद्र सरकार अब हर थाने में विशेष पुलिस फॉरेंसिक टीम बनाने की कार्ययोजना पर काम कर रही है। योजना के अन्तर्गत सभी पुलिस स्टेशन में पुलिस बलों को फॉरेंसिक का बेसिक ट्रेनिंग देने को कहा गया है और साथ ही जो इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर हों उनको फॉरेंसिक टेक्नोलॉजी के बारे में अपडेट किया जाए।





गृह मंत्रालय का कहना है कि किसी भी मामले को फुल प्रूफ बनाने में फॉरेंसिक एक्सपर्ट की अहम भूमिका होती है। इसलिए फॉरेंसिक विशेषज्ञता के लिए राज्यों को केंद्र के साथ मिलकर काम करने की आवश्यकता है।

सीसीटीएनएस से फॉरेंसिक डेटाबेस तैयार होगा

गृह मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि सीसीटीएनएस में अपराध और अपराधियों का एक केंद्रीकृत डेटाबेस है। इस डेटाबेस में पुलिस, कोर्ट के साथ-साथ फॉरेंसिक प्रयोगशाला को जोड़कर एक इंटर ऑपरेटबल क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम तैयार किया जाएगा जिससे अपराधियों तक पहुंचना आसान होगा। DNA विश्लेषण की क्षमता बढ़ाया जा रहा है।

गृह मंत्री ने राज्यों को सुझाव दिया है कि फॉरेंसिक साइंस पाठ्यक्रमों को चलाने वाले सभी यूनिवर्सिटी का पाठ्यक्रम एक जैसा तैयार किया जाए। इसे विश्व के तमाम सफल मॉडल की स्टडी करके तैयार करने को कहा गया है। मंत्रालय ने कहा कि सभी प्रदेशों से सुझाव भी मांगे गए हैं।

राज्यों से मानक तय करने को कहा गया

राज्यों को कहा गया है कि वे फॉरेंसिक क्षमता बढ़ाने के साथ उसका मानक भी तय करें। तकनीकी बदलाव के साथ सुरक्षा बलों को अपग्रेड करने की भी जरूरत बताई गई है। पुलिस बलों की टीम को अमेरिका, इजराइल आदि देशों से ट्रेनिंग भी दिलाई जाएगी। केंद्र का जोर फॉरेंसिक एक्सपर्ट के लिए बड़ा नेटवर्क तैयार करने पर है।

 

Comments

Most Popular

To Top