Police

पुलिस अच्छी भी है! गर्भवती के लिए ये SI बना भगवान

वहां गस्त लगाते हुए बस अड्डा चौकी प्रभारी इमाम ज़ैदी व एसआई महेश त्यागी पहुंचे। दोनों ने महिला को अस्पताल पहुंचाया। जहाँ महिला ने सकुशल नवजात को जन्म दिया।
महिला ने जबतक बच्चे को जन्म नहीं दिया तब तक एसआई इमाम ज़ैदी और एएसआई महेस त्यागी अस्पताल में ही बैठे रहे।

मुरादनगर: एक बार फिर से खाकी ने अपनी जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन किया है। वहीं, यूपी की स्वास्थ्य व्यवस्था फिर से कटघरे में खड़ी है। गाजियाबाद के मुरादनगर में एक सब इंस्पेक्टर एक गर्भवती महिला के लिए भगवान बनकर पहुंचा।





दरअसल, कच्ची सराय कॉलोनी में गर्भवती महिला देर रात दर्द से कराहती रही लेकिन मौके पर एम्बुलेंस नहीं पहुँची। रात करीब 2 बजे गर्भवती महिला के परिजनों ने एम्बुलेंस को फ़ोन कर मौके पर बुलाया लेकिन इसके बाद भी उन्हें किसी प्रकार की कोई सहायता नहीं मिल सकी। मजबूरन, लाचार पति प्रसव पीड़ा से तड़पती अपनी पत्नी को लेकर पैदल ही निकल पड़ता है।

वे दोनों सड़क पर सवारी का इंतजार कर रहे थे कि इसी दौरान वहां गश्त लगाते हुए बस अड्डा चौकी प्रभारी इमाम ज़ैदी व एसआई महेश त्यागी पहुंचे। दोनों ने महिला को अस्पताल पहुंचाया। जहाँ महिला ने सकुशल नवजात को जन्म दिया।
महिला ने जब तक बच्चे को जन्म नहीं दिया तब तक एसआई इमाम ज़ैदी और एएसआई महेश त्यागी अस्पताल में ही बैठे रहे।

बच्चे के जन्म होने पर माता-पिता ने अपने बच्चे का नामाकरण एसआई इमाम जैदी से ही कराया। प्रसूता का इलाज करने वाले डॉक्टरों का कहना था कि पुलिस सही समय पर प्रसूता को हॉस्पिटल ले आई अगर थोड़ी और देर हो जाती तो जच्चा और बच्चा दोनों की जान का खतरा था।

वहीं, एंबुलेंस के मदद न करने की बात पर सीएचसी प्रभारी सूर्यांशु ओझा ने कहा कि इस घटना की शिकायत उच्चाधिकारियों से की जाएगी व मामले की जांच कराई जाएगी। जो भी इसमें दोषी पाया जाएगा उसे किसी भी हाल में नहीं बख्शा जाएगा।

Comments

Most Popular

To Top