Police

स्पेशल रिपोर्ट: जम्मू-कश्मीर में जल्द खुलेंगे स्कूल, आवाजाही पर हटेगी रोक

जम्मू-कश्मीर पुलिस
फाइल फोटो

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 के संवैधानिक प्रावधानों को बेअसर करने के ऐलान के 10 दिनों बाद जम्मू कश्मीर के विभिन्न हिस्सों में लागू बंदिशों में छूट देने की घोषणा जम्मू कश्मीर सरकार  ने की  है। राज्य सरकार ने कहा है कि राज्य में कानून-व्यवस्था को काबू में रखने और आतंकवादी ताकतों को एकजुट हो कर भारत विरोधी कार्रवाई करने से रोकने के इरादे से कर्फ्यू लगाए गए और दूरसंचार सम्पर्क पर पाबंदी लगा दी गई।





 इस वजह से राज्य में जनजीवन पूरी तरह ठप हो गया था। सरकार के इस फैसले की देश-विदेश में व्यापक आलोचना हो रही थी।

राज्य सरकार ने श्रीनगर में बंदिशें हटाने का ऐलान करते हुए कहा कि शुक्रवार की नमाज के बाद अगले कुछ दिनों के बाद व्यवस्थित तरीके से बंदिशों में ढील दी जाएगी। आगामी सोमवार से स्कूल खुल जाएंगे ताकि बच्चों की पढ़ाई का नुकसान नहीं हो। सड़कों पर आवाजाही पर रोक अलग अलग इलाकों में धीरे धीरे  हटाई  जाएगी।

इन इलाकों में सार्वेजनिक परिवहन को सेवाएं चलाने की अनुमति दी जाएगी। दूरसंचार सम्पर्क क्रमिक तरीके से बहाल किये जाएंगे। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि मोबाइल संचार के जरिये आतंकवादी हरकतों के संचालन पर रोक लगाने के इरादे से ही ऐसा किया गया था। प्रवक्ता के मुताबिक आतंकवादी गुटों की धमकियां  सीमा पार से लगातार मिल रही थीं जिस वजह से संचार सम्पर्क तोड़ना जरूरी हो गया था।

 ऐहतियात के तौर पर जिन लोगों को हिरासत में लिया गया था उनकी लगातार समीक्षा की जा रही है। कानून और व्यवस्था के हालात सुधरने की रिपोर्टों के साथ ही लोगों को रिहा करना शुरू किया जाएगा।   प्रवक्ता ने उम्मीद जाहिर की कि जम्मू-कश्मीर में जनजीवन अगले कुछ दिनों में सामान्य हो जाएगा। सड़कों पर ट्रैफिक पहले की तरह सामान्य हो जाएगा।

राज्य सरकार ने कहा है कि जम्मू कश्मीर के लोगों के सहयोग की बदौलत ही  राज्य में शांति व व्यवस्था को बनाए रखऩा मुमकिन होगा। सरकार का ध्यान इस बात पर है कि आतंकवादी ताकतों को पहले की तरह  राज्य में  जनजीवन को तबाह करने का मौका नहीं मिले।

Comments

Most Popular

To Top