North India

DSP की निर्मम हत्या के मामले में SIT गठित, SP का तबादला

DYSP ayub pandit & yasin malik (right)

श्रीनगर। नौहट्टा में जामिया मस्जिद के बाहर गुरुवार रात को सीआईडी के पुलिस उपाधीक्षक (DSP-डीएसपी) मोहम्मद अयूब पंडित की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में शामिल तीन और आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। घटना के समय मोहम्मद अयूब पंडित सिविल ड्रेस में मस्जिद के बाहर सुरक्षा में तैनात थे। इस मामले में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जांच तेज करने के लिए एसआईटी (Special Investigation Team) भी गठित कर दी है। इस मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपियों की कुल संख्या 5 हो गई है।





नॉर्थ श्रीनगर के एसपी का किया ट्रांसफर

इस मामले के सामने आने के एक दिन बाद प्रदेश पुलिस ने क्षेत्र के एक वरिष्ठ अधिकारी का तबादला कर दिया। उनके ही क्षेत्र में यह घटना हुई है। देर रात जारी आदेश में, पुलिस महानिदेशक एस पी वैद ने उत्तर श्रीनगर के पुलिस अधीक्षक सज्जाद खालिक भट के तबादले के आदेश दिए। भट अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रैंक के अधिकारी हैं। उन्हें पुलिस मुख्यालय में रिपोर्ट करने को कहा गया है। वहीं, जारी किए गए आदेश के अनुसार एसपी सज्जाद अहमद उत्तरी कश्मीर में एसपी के कामों को देखेंगे, जो अभी तक एडिशनल एसपी ट्रैफिक सिटी श्रीनगर थे।

यासीन मलिक गिरफ्तार

वहीं ईद से पहले कश्मीर में अलगावादियों पर सरकार ने कड़ी कार्रवाई शुरु कर दी है। नेता यासीन मलिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। सूत्रों का कहना है कि कई अन्य अलगावादी नेता भी गिरफ्तार किए जा सकते हैं या फिर उन्हे नजरबंद किया जा सकता है। मलिक एक वर्ष से ज्यादा समय से हुर्रियत नेताओं सैयद अली शाह गिलानी और मीरवाइज उमर फारुक के साथ मिलकर कश्मीर घाटी में अलगाववादी प्रतिरोध का नेतृत्व कर रहे हैं।

उमर अब्दुल्ला ने बताया बर्बर घटना

डीएसपी अयूब पंडित की हत्या की निंदा करते हुए नेशनल कांफ्रेंस के कार्यवाहक अध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने कहा कि इस बर्बर घटना के लिए जो लोग भी जिम्मेदार हैं, उन्हें ‘नर्क की आग’ में जलना चाहिए। उमर ने कहा कि शहर के मुख्य इलाके में स्थित जामिया मस्जिद के बाहर पुलिस उपाधीक्षक की हत्या की घटना बर्बरता की हद है। उन्होंने कहा, ‘इस हादसे से मैं व्यक्तिगत तौर पर बहुत दुखी और परेशान हूं। इतने पवित्र माह में ऐसी घटना मस्जिद के बाहर हुई, जो भयावह है।’

Comments

Most Popular

To Top