North India

ये है सीसीटीएनएस से जुड़ने वाली भारत की पहली पुलिस चौकी

शिमला की संजौली पुलिस चौकी देश की पहली पुलिस चौकी बनी

शिमला। शिमला की संजौली पुलिस चौकी अपराध एवं आपराधिक ट्रैकिंग नेटवर्क और प्रणाली (सीसीटीएनएस) से जुड़ने वाली देश की पहली पुलिस चौकी बन गई है। इस पुलिस पोस्ट के माध्यम से लोगों को ऑनलाइन/ऑफलाइन शिकायतें दर्ज करने, नौकरी के लिए पुलिस सत्यापन, किराएदारों का पंजीकरण, चरित्र सत्यापन तथा अप्रवासी मजदूरों के पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध होगी।





मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने बुधवार को पुलिस चौकी को जोड़ने वाली इस सीसीटीएनएस प्रणाली का लोकार्पण किया। कुल्लू जिला की पुलिस चौकी मणिकर्ण, सोलन की पुलिस चौकी तथा कांगड़ा जिले की डाडासीबा पुलिस चौकी को भी सीसीटीएनएस से जोड़ा गया है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के दूरदराज क्षेत्र के लोगों विशेषकर बुजुर्गों, शारीरिक रूप से अक्षम व्यक्तियों व महिलाओं को इस माध्यम से नजदीकी पुलिस चौकी में प्राथमिकी दर्ज करवाने में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि भविष्य में प्रदेश की समस्त पुलिस चौकियों को सीसीटीएनएस प्रणाली से जोड़ा जाएगा।

पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि एक बार जब पुलिस चौकी सीसीटीएनएस सॉफ्टवेयर से जुड़ जाती है तो पुलिस के पर्यवेक्षी अधिकारी द्वारा दैनिक डायरी को ऑनलाइन देखा जा सकता है और स्टाफ की निगरानी आसानी से की जा सकती है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा राज्य में वर्ष 2015 में इस प्रणाली को शुरू करने के साथ ही पुलिस चौकियों को इस प्रणाली से जोड़ने वाला हिमाचल प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया था।

इस मौके पर पुलिस महानिदेशक संजय कुमार ने कहा कि नेशनल ई-गवर्नेंस योजना के तहत सरकार जनता तक जल्द और पारदर्शी तरीके से पहुंचने की कोशिश कर रही है। इससे क़ानून-व्यवस्था की स्थिति तो सुधरेगी ही पुलिस विभाग की कार्यक्षमता भी बढ़ेगी।

Comments

Most Popular

To Top