East India

माओवादियों का पुलिस दल पर हमला, एक शहीद, 10 घायल

कंधमाल में माओवादियों का जवानों पर हमला

भुवनेश्वर। कंधमाल जिले के बालिगुडा सब डिविजन स्थित खामनाखोल जंगल में बीती रात माओवादियों ने घात लगा कर हमला किया। इसमें स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) के एक जवान के शहीद होने के साथ 10 जवान घायल हो गये। घायलों में तीन की हालत गंभीर है। शहीद हुए जवान का नाम लक्ष्मीकांत जानी है, जो कलाहांडी जिले का रहने वाला था। कंधमाल के एनकाउंटर स्थल से लौटने के बाद पुलिस महानिदेशक के.बी सिंह ने कहा कि स्टैंडर्ड आपरेटिंग प्रोसिड्योर (एसओपी) का पालन किया गया है। इसका उल्लंघन नहीं हुआ है। जवानों का मनोबल काफी ऊंचा है।





कंधमाल

कंधमाल (ओडिशा) का बालिगुडा क्षेत्र जहां मुठभेड़ हुई (गूगल मैप)

प्राप्त जानकारी के अनुसार, यह हमला उस समय हुआ जब एसओजी के जवान तलाशी अभियान समाप्त कर वापस लौट रहे थे। माओवादियों ने अचानक उन पर हमला कर दिया। कंधमाल के आरक्षी अधीक्षक पीनाक मिश्र ने बताया कि इस घटना के बाद इलाके में सर्च ऑपरेशन को तेज किया गया है। इस हमले में घायल जवानों को पहले बालिगुडा स्थित अस्पताल में लाया गया और वहां से गंभीर रूप से घायल जवानों को ब्रह्मुपर स्थित एमकेसीजी मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

तीन जून को ही राज्य के मलकानगिरी जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में हत्या के आधा दर्जन मामलों में शामिल माओवादी 38 वर्षीय जी नागेश्वर राव उर्फ चिन्नाबाई मारा गया था। उस पर चार लाख रुपये का इनाम था। पुलिस अधीक्षक मित्रभानू मोहपात्रा ने बताया कि पुलिस ने कापातूती वन में अभियान शुरू किया था जिसमें चिन्नाबाई को मुठभेड़ में मार गिराया गया।

Comments

Most Popular

To Top