CRPF

वीडियो : नक्सलियों ने रेलवे स्टेशन, ट्रेन का इंजन फूँका

डुमरी विहार स्टेशन पर नक्सली हमला





नक्सलियों ने झारखंड में रेलवे स्टेशन और मालगाड़ी के इंजन में ल…

वीडियो : नक्सलियों ने झारखंड में रेलवे स्टेशन और मालगाड़ी के इंजन में लगाई आग, देखे यह वीडियो…. #Naxalite Central Reserve Police Force : CRPF

Posted by Rakshak News on Thursday, May 25, 2017

बोकारो। बीती रात साढ़े 11 बजे 50-60 नक्सलियों ने धनबाद-बरकाकाना रेलखंड के डुमरी विहार स्टेशन पर जमकर तांडव किया। नक्सलियों ने स्टेशन के कंट्रोल यूनिट रूम को आग के हवाले कर दिया। इसमें सारा सामान, सिगनल सेट और संचार सिस्टम समेत कंट्रोल यूनिट की मशीनें जल गईं। घटना से पूर्व स्टेशनकर्मियों को नक्सलियों ने वहां से बाहर निकाल दिया था। घटना में गाड़ी परिचालन सम्बन्धी जानकारी देने और पहुंचाने वाली पूरी प्रणाली, अन्य उपकरण तथा बाकी सारे सामान जलकर खाक हो गए। वहीं मालगाड़ी के इंजन में भी आग लगा दी और ट्रेन के ड्राइवर, सह चालक व गार्ड के वाकी-टाकी भी लूट लिए। इसके बाद नक्सली सरकार विरोधी पोस्टर लगाकर चले गए।

घटना की सूचना पुलिस को देर रात करीब 1.30 बजे मिली। घटना की पुष्टि करने के बाद सुअभ 6 बजे कमांड चौकी स्वांग से तुरंत ही केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF-सीआरपीएफ) की 26वीं बटालियन के कमांडेंट अम्बर घोष, सहायक कमांडेंट संजय कुमार, बोकारो के ASP (Operation) और बेरमो उपमंडल के प्रभारी पुलिस अधिकारी दल-बल के साथ घटनास्थल के लिए रवाना हो गए।

डुमरी विहार स्टेशन पर नक्सली हमला

नक्सलियों ने स्टेशन के कंट्रोल यूनिट रूम को आग के हवाले कर दिया

घटनाक्रम के अनुसार स्टेशन के पास नक्सलियों का जमावड़ा रात 11 बजे के आसपास हुआ। इनमें एक महिला और कुछ बच्चे भी बताए जा रहे हैं। स्टेशन में घुसे करीब 30 नक्सली वर्दी में थे। सबसे पहले मालगाड़ी के गार्ड और चालक से वाकी-टाकी अपने कब्जे में किए और उन्हें चुपचाप वहाँ से चले जाने का हुक्म दिया।

इसके बाद मालगाड़ी के इंजन में आग लगा दी। मालगाड़ी के सभी डिब्बों पर नक्सलियों ने सरकार विरोधी पोस्टर चिपका दिए। यहाँ से नक्सली स्टेशन मास्टर के दफ्तर पहुंचे और उन्हें स्टेशन छोड़ने को कहा। बताया जाता है कि नक्सलियों ने रेलकर्मियों से कहा कि हमारी किसी से दुश्मनी नहीं है। जान बचाना चाहते हो तो यहाँ से चले जाओ। डरे स्टाफ ने वहाँ से निकल जाने में ही भलाई समझी। इसके बाद नक्सलियों ने स्टेशन के पूरे कंट्रोल रूम को आग लगा दी।

पुलिस द्वारा जब्त किए गए नक्सलियों के पोस्टर में 29 मई के झारखंड बंद को सफल बनाने की अपील की गई है। नक्सलियों ने सीएनटी-एसपीटी एक्ट (छोटा नागपुर काश्तकारी अधिनियम-1908 और संताल परगना काश्तकारी अधिनियम-1949) में संशोधन का विरोध किया है।

Comments

Most Popular

To Top