North India

जवाहरलाल नेहरू के दादा थे बहादुर शाह जफ़र के CP

गंगाधर-नेहरू

नई दिल्ली। भारत की राजधानी दिल्ली में पुलिस के मौजूदा संगठन की शुरुआत बेशक चालीस के दशक के अंत में देश के बंटवारे से शुरू हुई लेकिन इसका इतिहास इतना रोचक है कि एक तथ्य ही इसे और जानने की इच्छा बढ़ा देता है। इस इतिहास के रिकॉर्ड के मुताबिक दिल्ली के आखिरी कोतवाल (तब कोतवाल ही पुलिस प्रमुख होता था) पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के दादा गंगाधर नेहरू थे। गंगाधर नेहरू यानि मोतीलाल नेहरू के पिता और लक्ष्मीनारायण नेहरू के पुत्र।





मोतीलाल नेहरू उनके सबसे छोटे बेटे थे और उनकी पैदाइश गंगाधर नेहरू की मृत्यु के बाद हुई थी। दो और बेटे थे बंसीधर और नंदलाल नेहरू। गंगाधर की मृत्यु 1961 में हुई जब वो दिल्ली छोड़कर आगरा चले गए थे। बंसीधर परिवार से अलग-थलग थे और ब्रिटिश सरकार के न्यायिक विभाग में नौकरी करते थे जबकि नंदलाल खेतड़ी रियासत के दीवान हुए। बाद में वकालत पास करके वो भी आगरा में बस गए।

गंगाधर नेहरू

दिल्ली के आखिरी कोतवाल गंगाधर नेहरू (फाइल फोटो)

महरौली-पुलिस-स्टेशन

दिल्ली पुलिस का हेड क्वार्टर किला राय पिथौड़ा में होता था जिसे वर्तमान में महरौली कहा जाता है

1827 में पैदा हुए गंगाधर नेहरू आखिरी मुगल बादशाह मिर्जा अबु जफर सिराजुद्दीन मोहम्मद बहादुर शाह जफर (1775-1862) के शासनकाल के दौरान दिल्ली के पुलिस प्रमुख (कोतवाल) बनाए गए। वैसे दिल्ली के सबसे पहले कोतवाल मलिकुल उमरा फखरूद्दीन थे। उस वक्त दिल्ली पुलिस का हेड क्वार्टर किला राय पिथौड़ा में होता था जिसे वर्तमान में महरौली कहा जाता है।

बहादुर-शाह-ज़फर

आखिरी मुगल बादशाह बहादुर शाह जफर के शासनकाल के दौरान दिल्ली के पुलिस प्रमुख (कोतवाल) बनाए गए थे गंगाधर नेहरू

दिल्ली पुलिस के इतिहास में जिन कोतवालों के नाम दर्ज हैं उनमें एक तो हैं मलिक अलौल मुल्क जिन्हें सुल्तान अलाउद्दीन खिलजी ने 1297 में नियुक्त किया गया था। खिलजी मलिक अलौल से प्रभावित था और इतना तक कहा था कि मैं तुम्हें विजारत (प्रधानमंत्री का ओहदा) दे देता अगर मोटापे की वजह से अक्षम नहीं होते।

शाहजहां ने जब आगरा से आकर दिल्ली को राजधानी बनाया (1648 में) तो उन्होंने गजनफर खान को नए शहर का पहला कोतवाल बनाया और साथ ही मीर-ए-आतिश (तोपखाना प्रमुख) का ओहदा भी दिया। 1857 की क्रांति को कुचले जाने के बाद कोतवाल का ओहदा भी खत्म हो गया। तब गंगाधर नेहरू आखिरी कोतवाल थे।

Comments

Most Popular

To Top