Police

आईपीएस ओम प्रकाश सिंह होंगे उत्तर प्रदेश के नए डीजीपी

लखनऊ। साल 1983 बैच के आईपीएस ओम प्रकाश सिंह उत्तर प्रदेश के नए डीजीपी यानी पुलिस महानिदेशक होंगे। वह उत्तर प्रदेश पुलिस के वर्तमान डीजीपी सुलखान सिंह की जगह लेंगे। IPS ओम प्रकाश सिंह अभी सीआईएसएफ (CISF) के महानिदेशक का कार्यभार संभाल रहे हैं। प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से अपील की है कि उन्हें उनकी मौजूदा जिम्मेदारी से मुक्त किया जाए और उन्हें यूपी के डीजीपी पद पर नियुक्त किया जाए।





गौरतलब है कि डीजीपी सुलखान सिंह 3 महीने पहले सितंबर महीने में सेवानिवृत्त हो गए थे। उन्हें केंद्र सरकार की मंजूरी के बाद तीन महीने का सेवा विस्तार दिया गया था। सुलखान सिंह का सेवा विस्तार 31 दिसंबर को खत्म हो रहा था। जिसके बाद नए डीजीपी के नाम पर कई अटकलें लगाईं जा रही थीं। हालांकि प्रदेश के कई आईपीएस अधिकारियों के नाम चर्चा में थे लेकिन रविवार को इन सभी चर्चाओं पर विराम लग गया।

आईपीएस ओम प्रकाश को चेन्नई से उत्तर प्रदेश बुलाया गया है। रविवार को जब ओपी सिंह ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की तो उनका यूपी डीजीपी बनना लगभग तय माना जा रहा था। डीजीपी पद पर IPS ओम प्रकाश सिंह की आधिकारिक जॉइनिंग होने तक शासन ने एडीजी कानून-व्यवस्था को अतिरिक्त प्रभार दिया है।

आपको बता दें कि ओपी सिंह का कार्यकाल ढाई साल का होगा। कहा जा रहा है कि वरिष्ठता में वह सबसे लंबे कार्यकाल वाले 7वें नंबर पर हैं। 1983 बैच के आईपीएस ओमप्रकाश सिंह बिहार के रहने वाले  हैं। उनके पास उत्तर प्रदेश में काम करने का अनुभव रहा है। वह मुरादाबाद, लखीमपुर खीरी, बुलंदशहर, अल्मोड़ा, लखनऊ, इलाहाबाद में बतौर एसएसपी रह चुके हैं। लखनऊ के तो वो 3 बार एसएसपी रह चुके हैं।

रक्षक न्यूज का व्यू:

उत्तर प्रदेश के नए डीजीपी के रूप में ओम प्रकाश सिंह के पास हालांकि कानून-व्यवस्था और बढ़ते अपराध को लेकर तमाम चुनौतियां होंगी किंतु उम्मीद की जा सकती है उनकी छवि, पृष्टभूमि और कार्यशैली से सूबे में अपराध पर अंकुश लगेगा। खास बात यह है कि उनका कार्यकाल थोड़ा लंबा होगा इससे भी पुलिस महकमे में पकड़ बनाने और बेहतर काम करने की शैली विकसित होगी।

Comments

Most Popular

To Top