North India

12 दिन बाद मौत से हार गए तिहरे हत्याकांड के आरोपी DSP

DSP भगवान दास ने खुद को गोली मारी

चंडीगढ़। हांसी में होली के दिन हुए तिहरे हत्याकांड में आरोपी बनाए गए हिसार के डीएसपी रहे भगवान दास (52 वर्ष) की सोमवार को मौत हो गयी। डीएसपी ने अपने सर्विस रिवाल्वर से 15 मार्च को पंचकूला पुलिस लाइन में खुद को गोली मार ली थी। जिसके बाद से ही डीएसपी का उपचार पंचकूला के एक निजी चिकित्सालय में चल रहा था।





उल्लेखनीय है कि हांसी के शेखपुरा गांव में होली के लिए दो पक्षों में जमकर फायरिंग हुई थी। जिसमें एक पक्ष के तीन लोगों की मौत हो गयी थी। इस घटना में मृतकों के पक्ष द्वारा दी गयी शिकायत में डीएसपी भगवान दास का भी नाम शामिल किया गया था।

15 मार्च को अपनी सर्विस रिवाल्वर से खुद को मार ली थी गोली 

डीएसपी के परिवार की लड़की की शादी शेखपुरा गांव में हुई थी और उसने वहां से पंचायत चुनाव भी लड़ा था। इसको देखते हुए मृतक पक्ष के लोगों ने डीएसपी को इस घटना में आरोपी बनाया था। इस घटना के एक दिन बाद ही डीएसपी का स्थानांतरण पंचकूला हेडक्वार्टर कर दिया गया था।

पंचकूला में 15 मार्च को डीएसपी भगवान दास ने सुबह के वक्त अपनी सर्विस रिवाल्वर से खुद को ही गोली मार ली थी। डीएसपी ने गोली मारने के पहले अपनी डायरी में कुछ लिखा भी था। जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया था।

Comments

Most Popular

To Top