Police

यूपी चुनाव में हथियारों का इस्तेमाल, दिल्ली में जब्त

नई दिल्ली। यूपी चुनाव में हथियारों का क्या काम। क्या वहां पर नेताओं के कहने पर हथियार आ रहे हैं या फिर बदमाशों को चुनावों में इनकी जरूरत पड़ रही है। दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने हथियारों के एक तस्कर को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में अवैध हथियार जब्त किए हैं। आरोपी की पहचान मोहम्मद अरशद के रूप में हुई है। आरोपी के कब्जे से 21 पिस्टल और पांच मैगजीन जब्त की गई हैं। आरोपी ने बताया है कि यूपी चुनावों में इनका इस्तेमाल हो सकता था।





सूत्रों के अनुसार आरोपी के खुलासे के बाद दिल्ली पुलिस यूपी पुलिस से संपर्क में है। जिसकी सहायता से यूपी में हथियारों की सप्लाई करने वाले दूसरे नेटवर्क को भी जल्द पकड़ने की कोशिश की जा रही है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पिछले कुछ समय से अचानक हथियार और ड्रग्स की सप्लाई में तेजी आई है। स्पेशल सेल की टीमें आरोपियों को पकड़ने की कोशिश कर रही हैं। जिसमें वह सफल भी हुई है। पिछले कुछ दिनों में पकड़े गए हथियार तस्करों से पूछताछ में भी यूपी चुनाव को लेकर अवैध हथियारों के इस्तेमाल की बात सामने आई थी।

एसीपी गोविंद शर्मा की देखरेख में इंस्पेक्टर सतेन्द्र मोहन की टीम हथियारों के तस्करों के बारे में पता करने की कोशिश कर रही हैं। इस बीच एक पुख्ता सूचना पर मो.अरशद को सीलमपुर इलाके से दबोच लिया गया। जब्त पिस्टल में मेड इन इंग्लैंड लिखा हुआ था। आरोपी मो. अरशद मेरठ का रहने वाला है। पकड़े जाने के वक्त वह किसी रिफाकत नामक युवक को हथियार देने आया था। अरशद मेरठ में हथियार बनाता और बेचता है। वह पिछले काफी सालों से इस धंधे में हैं। उसके दिल्ली, यूपी, मध्यप्रदेश समेत अन्य शहरों के गैंगस्टरों से संपर्क हैं। वह लोकल मेड सेमी ऑटोमैटिक पिस्टल मुज्जफ्फरनगर के छोटू से खरीदता है। वह करीब तीन साल पहले लाल मोहम्मद के संपर्क में आया था। जिसके कहने पर वह देसी कट्टा खुद ही बनाने लगा था। जिसके कलपुर्जे वह मार्केट से लाया करता था। बाद में वह छोटू के संपर्क में आया था।

Comments

Most Popular

To Top