Listicles

भारतीय पुलिस बल में महिलाओं का होना अब कोई अपवाद नहीं, जानें 9 रोचक बातें

भारतीय महिलाएं हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं। पुरुषों के वर्चस्व वाले क्षेत्रों में भी वह महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहीं हैं। बिजनेस की बात हो या स्पोर्ट्स की या फिर देश की सुरक्षा की। महिलाएं हर क्षेत्र में अपनी कर्तव्यनिष्ठा से भरी भूमिका निभा रही हैं। भारतीय पुलिस बल में महिलाओं का होना अब कोई अपवाद नहीं है। वे हर दिन विभिन्न प्रतिबंधों, उचित प्रशिक्षण और सुविधाओं के अभाव से लड़ती रहीं हैं। फिर भी आज देश में मजबूत महिला पुलिस बल के रूप में एक लाख महिलाएं सफलता के साथ अन्य महिलाओं को पुलिस बल में शामिल होने की प्रेरणा दे रही हैं।





कई महिला पुलिस अधिकारी प्रशंसनीय कार्य के लिए प्रसिद्ध हुई हैं

यह तो सभी जानते हैं कि किरण बेदी पहली महिला आईपीएस अधिकारी बनीं।

…लेकिन क्या आप जानते हैं कि कंचन चौधरी भट्टाचार्य, पुलिस महानिदेशक बनने वाली पहली महिला थी। वह उत्तराखंड राज्य की पुलिस महानिदेशक थीं। मुंबई की मीरा बोरवणकर अपराध शाखा(क्राइम ब्रांच) की प्रमुख बनने वाली पहली महिला बनीं। दिल्ली पुलिस में ज्यादा समय तक तैनात रहने वाली विमला मेहरा विशेष पुलिस आयुक्त के रूप में नियुक्त होने वाली पहली महिला थीं। उन्होंने महिला हेल्पलाइन नंबर 1091 की शुरूआत करने में अहम भूमिका निभाई।

Comments

Most Popular

To Top