Paramilitary Force

देश की सुरक्षा में तैनात अर्धसैनिक बलों के जांबाज जवान पहनेंगे खादी की वर्दी

पैरामिलिट्री

नई दिल्ली। अर्ध सैनिक बलों के करीब 10 लाख जवान अब हाथ से बुने हुए कपड़े या खादी से तैयार वर्दी पहनेंगे। यह फैसला केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के निर्देश के बाद लिया गया है।





खबर के मुताबिक अमित शाह ने अर्ध सैनिक बलों के प्रमुखों को इसकी संभावना तलाशने को कहा है। इसके बाद केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल, सीमा सुरक्षा बल, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस, केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल, राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड और असम राइफल्स के जवान युद्ध या शांतिकाल में हर वक्त खादी से तैयार वर्दी पहनेंगे।

बता दें कि अभी अर्ध सैनिक बल वर्दी के लिए कॉर्टन और टेरिकॉर्टन के वस्त्रों का इस्तेमाल करते हैं। केंद्रीय गृह मंत्री के निर्देश के बाद केंद्रीय बलों ने जवानों की वर्दी के लिए कपड़े खरीदने के लिए केंद्रीय खादी एवं ग्रामोद्योग (केवीआईसी) से बातचीत शुरू कर दी है।

सूत्रों के मुताबिक केवीआईसी ने अर्ध सैनिक बलों को सूती और ऊनी वर्दी, कैमोफ्लाज यूनिफॉर्म के साथ कंबल के नमूने साझा किए हैं। गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यूनिफॉर्म के लिए केंद्रीय बलों की अलग-अलग जरूरतें होती हैं। हमने केवीआईसी से जरूरतों के मुताबिक फैब्रिक्स उपलब्ध कराने को कहा है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खादी के इस्तेमाल पर लगातार जोर दे रहे हैं और उन्होंने इसी आंदोलन का रूप देने की वकालत की है।

 

Comments

Most Popular

To Top