Others

सुरक्षा बल की आदिवासी बच्चों को शिक्षा और रोजगार से जोड़ने की कोशिश

आदिवासी बच्चों के साथ CRPF ऑफिसर

नई दिल्ली। सुरक्षा बल वैसे तो लोगों की हिफाजत के लिए तैनात किए जाते है लेकिन छत्तीसगढ़, झारखंड के आदिवासी इलाकों में शिक्षा में पिछड़ रहे बच्चों को एजुकेशन और रोजगार से जोड़ने के मुहिम में जुटे हैं। उनकी इस खास पहल की बदौलत बड़ी संख्या में बच्चे न सिर्फ पढ़ाई से जुड़ रहे हैं बल्कि उनका रुझान खेलों की तरफ भी बढ़ा है। इन आदिवासी बच्चों को खेलों और रोजगार के जरिए शिक्षा से जोड़ा जा रहा है ताकि इनके मन में बैठा डर निकल जाए और वो मुख्य धारा से जुड़ें।





आईटीबीपी, सीआरपीएफ को ऐसे सैकड़ों गांवों में मुहिम चलाने की जिम्मेदारी दी गई है जो नक्सलवाद से प्रभावित हैं। सुरक्षा बल से जुड़े सूत्रों के मुताबिक गांव वालों के मन से डर दूर करके उनके बच्चों को शिक्षा, प्रशिक्षण, खेल और अन्य शिक्षणेतर गतिविधियों से जोड़ने और रोजगार दिलाने की मुहिम में अब तक हजारों बच्चों को जोड़ा गया है। CRPF की बस्तरिया बटालियन बनने के बाद किशोरों और युवाओं में उत्साह बढ़ा है।

Comments

Most Popular

To Top