Forces

अफीम के साथ महिला तस्कर गिरफ्तार, 8 बच्चों को भी बचाया

नई दिल्ली: आज सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी-SSB) ने एक संयुक्त ऑपरेशन में एक महिला को भारी मात्रा में अफीम के साथ गिरफ्तार किया है। एक अन्य मामले में बल ने तीन तस्करों को गिरफ्तार कर उनके चंगुल से आठ बच्चों को सकुशल बचाया है।





पहले मामले में एक संयुक्त ऑपरेशन में सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) की 42वीं वाहिनी ने स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (NCB), लखनऊ के साथ मिलकर SSB की चेक पोस्ट रुपडिया से अफीम की तस्करी करने वाली एक महिला को गिरफ्तार किया है। बरामद अफीम की बाजार में 50 लाख कीमत आंकी जा रही है। महिला तस्कर मूल रूप से नेपाल की रहने वाली है।

बल ने यह कार्रवाई गुप्त सूचना के आधार पर की। चेकिंग के दौरान पोस्ट रुपडिया से एक महिला को संदिग्ध हरकत के आधार पर जाँच व तलाशी के लिए रोका गया। जांच के दौरान महिला से 2.5 किलोग्राम अफीम तथा एक मोबाइल फ़ोन बरामद किया। महिला तस्कर से जब्त किए गए अफीम और उसके मोबाइल को एनसीबी, लखनऊ को सौंप दिया गया है।

आठ बच्चों को तस्करों से बचाया

एक अन्य मामले में एसएसबी की भारत-नेपाल सीमा पर तैनात 51वीं वाहिनी, सीतामढ़ी, बिहार ने गैर सरकारी संगठन “चाइल्ड लाइन (Childline)” के साथ मिलकर तीन मानव तस्करों को आठ नाबालिक बच्चों को सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन से कर्मभूमि एक्सप्रेस में मुंबई ले जाते समय धर दबोचा तथा बच्चों को तस्करों से मुक्त कराया।

इन बच्चों में से पांच को को तस्कर मुंबई में किसी फैक्ट्री में काम कराने के लिए ले जा रहे थे। अन्य तीन बच्चों को किसी अन्य व्यक्ति को सौपना था। गिरफ्तार तीनों तस्कर और मुक्त कराये बच्चे सीतामढ़ी, बिहार के रहने वाले हैं। मुक्त कराये गये बच्चों को पुनर्वास के लिए गैर सरकारी संगठन “चाइल्ड लाइन” को सौंप दिया गया तथा गिरफ्तार तस्करों को रेलवे पुलिस बल सीतामढ़ी के हवाले कर दिया गया।

आपको बता दें कि एसएसबी ने इस वर्ष अब तक मानव तस्करी से जुड़े कुल 44 केस दर्ज किये गए जिसमें 61 मानव तस्करों को पकड़ा तथा 209 पीड़ितों को छुड़ाया गया है।

Comments

Most Popular

To Top